Relationship Tips: देर से शादी करने पर होते हैं ये 5 नुकसान, जानें यहां

लेट शादी से कई बार सही पार्टनर के साथ बहुत सारी मुश्किलें आती हैं। तो चलिए आज के आर्टिकल में हम आपको देरी से शादी करने के नुकसान बताते हैं। आइए जानते हैं विस्तार से...

Sanjucta Pandit
Published on -
shadi

Relationship Tips : विवाह हर किसी को जीवन में एक महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि इस समय दो आत्माओं का मिलन होता है। यह एक सामाजिक प्रक्रिया है, जो पुरुष और महिला के बीच एक स्थाई संबंध स्थापित करता है। वर-वधु के अलावा इसमें दो परिवारों का मिलन होता है और नए रिश्ते बनते हैं। ऐसे में दूल्हा और दुल्हन दोनों के लिए रिश्ते को बैलेंस करना चैलेंजिंग काम होता है। खासकर लड़कियों के लिए… क्योंकि वह अपने एक घर को छोड़कर दूसरे घर में हमेशा के लिए चली जाती है। उस दौरान हर एक रिश्ते को मजबूती और प्यार के साथ निभाना काफी मुश्किल होता है। कुछ इसे आसानी से हैंडल कर लेती हैं, तो कुछ के लिए यह काफी मुश्किल भरा काम होता है। जैसा कि हम सभी जानते हैं पहले लड़का और लड़की दोनों की ही शादी बहुत ही कम उम्र में कर दी जाती थी। हालांकि, इसके बहुत नुकसान थे। जिसके बाद भारत सरकार द्वारा कानून बनाया गया। जिसके तहत लड़की की उम्र 18 वर्ष और लड़के की उम्र 21 साल होना अनिवार्य है। अन्यथा, वह सजा के भागीदार बन जाते हैं। वहीं, आजकल बदलती लाइफस्टाइल को फॉलो करते हुए लड़का और लड़की दोनों ही बहुत लेट से शादी करते हैं। बता दें कि लेट शादी से कई बार सही पार्टनर के साथ बहुत सारी मुश्किलें आती हैं। तो चलिए आज के आर्टिकल में हम आपको देरी से शादी करने के नुकसान बताते हैं। आइए जानते हैं विस्तार से…

Relationship Tips: देर से शादी करने पर होते हैं ये 5 नुकसान, जानें यहां

Continue Reading

About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।