Relationship tips : अपने पार्टनर से होती है जलन, ये इमोशन रिश्ते को कर सकता है तबाह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। दो लोग कभी भी एक जैसे नहीं हो सकते। ये बात भाई बहन, दोस्तों और तमाम बाकी लोगों की तरह एक रिलेशनशिप (relationship) में बंधे पार्टनर पर भी लागू होती है। हो सकता है एक ज्यादा वाइब्रेंट, आकर्षक, खूब बातें करने वाला हो तो दूसरा पार्टनर खामोश, सादा या फिर इंट्रोवर्ट हो। ऐसे में ये भी संभव है कि एक के बहुत सारे दोस्त हों, विपरीत जेंडर वाले उससे आकर्षित होते हों और इसे लेकर उसे पार्टनर को जलन (jealousy) हो। जलन की वजह कुछ और भी हो सकती है जिसमें करियर, सफलता, लुक्स, फाइनेंशियल प्रोग्रेस जैसी बातें भी शामिल हो सकती है। लेकिन जिससे प्यार करते हैं, जिसके साथ रहना चाहते हैं उसी से ईर्ष्या की भावना रिश्ते में बिखराव ला सकती है। इसलिए अगर आपके मन में भी कुछ ऐसे भाव आ रहे हैं तो इसपर तुरंत गौर करना जरुरी है।

Relationship tips : रिश्ता निभाने का दारोमदार सिर्फ आपपर तो नहीं, इन संकेतों को समझिए

  • कई बार एक पार्टनर लुक्स, इंटरेक्शन में बेहतर होता है। शुरु में आप भी इसी आदत के कारण उससे इम्प्रेस हुए होंगे। लेकिन अब जब आप एक रिलेशनशिप में हैं और बाकि लोग भी उसके प्रति आकर्षित हो रहे हैं तो आपको इनसिक्योरिटी फील होती है। इनसिक्योरिटी के साथ आपमें कहीं हीनता बोध तो नहीं आ रहा, इसे देखिये। अगर ये भावना आउट ऑफ कंट्रोल हो रही है तो इसे लेकर अपने पार्टनर से बात कीजिए। आप दोनों को पता होना चाहिए कि किस समय कौन क्या फील कर रहा है। खासकर ऐसी बातें जो रिश्ते पर नकारात्मक असर डाल सकती है।
  • अगर आप दोनों एक ही ऑफिस में हैं और एक पार्टनर बॉस की भूमिका में है तो कभी ये भी हो सकता है कि आपका इगो आड़े आ जाए। अपने पार्टनर को ऑफिस में सुपिरियर की तरह देखना कई बार मुश्किल हो जाता है। लेकिन इस बात को समझिये कि निजी और प्रोफेशनल रिश्ते अलग होते हैं। अपने घर को ऑफिस और ऑफिस को घर में लाना बंद कीजिए।
  • अगर आप दोनों कीजॉब प्रोफाइल एक ही है और दोनों ऑफिस में कॉम्पिटिटर की तरह हैं तो अपने पार्टनर को भी बाकि कलीग्स की तरह ही देखिये। हो सकता है उनका परफॉर्मेंस आपसे बेहतर हो, ऐसे में इस बात पर कुढ़ने का कोई फायदा नहीं। अपने पार्टनर की सफलता पर खुश होना सीखिये
  • अगर एक की करियर ग्रोथ बहुत अच्छी हो रही है। उसका फाइनेंशियल स्टेटस बढ़ रहा है और आपको लगता है कि आप जो डिजर्व करते हैं वो नहीं मिल पा रहा, तो जलन स्वाभाविक है। लेकिन इसमें आपके पार्टनर की कोई गलती नहीं। इस बात को बीच में न आने दें और अपनी भावनाओं को कंट्रोल में करने की कोशिश करें।
  • कई बार हमें लगता है कि सामने वाला खुशनसीब है। वो जो काम करता है उसमें उसे कामयाबी मिलती है। उसके अच्छे दोस्त हैं, घरवाले सपोर्ट करते हैं और नौकरी में भी वो सफल है। इसी सोच के साथ ये भावना भी घर करने लगती है कि मेरी तो किस्मत ही साथ नहीं देती। ऐसी नकारात्मकता को तुरंत अपने ज़हन से दूर करें। याद रखें कि आपका स्वभाव और काबिलियत ही सारी सफलताओं का कारण है। इसलिए खुद को बेहतर करें, न की पार्टनर से ईर्ष्या रखें।
  • अगर आपको लगता है कि आप इस इमोशन पर काबू नहीं पा रहे हैं तो किसी रिलेशनशिप काउंसलर से मिलें। अपने रिश्ते को दांव पर लगाने की बजाय इसे सुधारने और अपनी नकारात्मक भावना को दूर करने की कोशिश कीजिए।