छोटी छोटी बातें, जो लाएंगी जिंदगी में बड़े बदलाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। छोटी कोशिशों से बड़े बदलाव होते हैं। इसीलिए कहा जाता है कि छोटी छोटी बातों में खुशियां ढूंढना चाहिए। छोटे छोटे एफर्ट करना चाहिए और छोटी छोटी कदम भरना चाहिए। आज हम भी कुछ ऐसी ही छोटी आदतों के बारे में बात करेंगे..जो हमारे मन मस्तिष्क और शरीर पर सकारात्मक असर डाल सकती हैं। हम अगर आज से ही इनपर अमल करना शुरु कर दें, तो जल्द ही इनके परिणाम देखने को मिलेंगे। ये छोटी लेकिन अच्छी आदतें हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद सिद्ध हो सकती है।

बॉलीवुड एक्ट्रेस Ananya Panday जमकर हुई ट्रोल, सोशल मीडिया पर वायरल हुए मीम्स

  • खुद से प्यार करें। हम अपने परिवार, रिश्तेदार और दोस्तों से प्यार तो करते ही हैं लेकिन इस क्रम में कई बार खुद को पीछे छोड़ देते हैं। इसलिए सबसे पहले खुद से प्यार करनी सीखिए।
  • अपना खयाल रखना भी जरुरी है। हम स्वस्थ और खुश होंगे तभी अपने परिवार को बेहतर सुविधाएं और खुशियां दे पाएंगे। इसलिए समय समय पर अपने आपको पेंपर करना भी जरुरी है।
  • अपनी हेल्थ हेबिट्स पर एक नजर डालिये। कोशिश कीजिए कि बाहर की जगह घर के बने खाने को प्राथमिकता दें। घर का खाना भले ही सादा हो, लेकिन हमेशा सेहत के लिए अच्छा होता है।
  • आजकल हर जगह लिफ्ट या एस्केलेटर हैं। लेकिन इनकी जगह सीढ़ी का प्रयोग करें। अगर आपको हड़बड़ी या जल्दी नहीं है, तो सीढ़ियों से चढ़ें उतरें। ये स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी है।
  • अपने घर के छोटे मोटे काम खुद करें। छुट्टी के दिन सफाई, पोंछा लगाना, कैबिनेट साफ करना और कपड़ों को जमाना शरीर के लिए अच्छी एक्सरसाइज है।
  • आप वर्किंग हैं और पूरे सप्ताह बिजी रहते हैं तो वीकेंड पर कुछ काम एडवांस में कर लें। कपड़े प्रेस कर लें, जरुरी ग्रॉसरी खरीद लें, पेंडिंग बिल चुका दें और अपनी गाड़ी की सर्विसिंग करा लें।
  • अगर आपको किसी बात पर गुस्सा आ रहा है तो तुरंत प्रतिक्रिया न दें। ये नियम बनाए कि गुस्सा आने पर कम से कम 15 मिनिट शांत रहेंगे और उसके बाद रिएक्ट करेंगे। एक गिलास पानी पीजिए और 15 मिनिट अकेले बैठिये। आप देखेंगे कि इतने समय में आपकी मानसिक स्थिति बदल चुक है और अब आप उसी मुद्दे पर अपनी बात शांति से रख सकेंगे।
  • कभी भी हड़बड़ी में या प्रभाव में आकर ढेर सारी शॉपिंग नहीं करें। अगर आप किसी चीज को खरीदने का मन बना रहे हैं और वो काफी महंगी है तो एक सप्ताह का समय दें खुद को। एक सप्ताह में आप खुद की काउंसलिंग करेंगे कि उस वस्तु की कितनी जरुरत है और क्या वो खरीदना आवश्यक है।
  • अपनी एनर्जी व्यर्थ की बातों में ज़ाया न करें। फिजूल की बहस या गॉसिप की बजाय वो समय किसी क्रिएटिव काम में लगाएं।
  • पढ़ने की आदत डालिये। पढ़ना हमें बहुत कुछ सिखाता है। अपनी रुचि का फिक्शन, नॉन फिक्शन कुछ भी पढ़ें। इससे आपको देश दुनिया के बारे में जानकारी भी मिलेगी।
  • अपने लिए स्पेस और समय निकालिए। भले ही आप कितने भी बिजी हों लेकिन कुछ समय अपनी हॉबी और पसंद के लिए निकालना जरुरी है।
  • हम समय की कमी के कारण परेशान रहते हैं और हमारा अधिकांश समय उनके साथ व्यतीत होता है जिनसे औपचारिक संबंध है। आजकल वर्कप्लेस हमारा ज्यादातर समय ले लेता है। कोशिश कीजिए कि इक कीमती समय में से कुछ अपने खास दोस्तों के लिए भी निकालें।
  • प्रकृति से मित्रता कीजिए। इससे सुंदर कुछ नहीं। थोड़ा समय निकालिये और नियमित अंतराल में किसी सुंदर प्राकृतिक स्थल पर घूमने निकल जाइये। ये आपको रिचार्ज कर देगा और एक नई ऊर्जा भी मिलेगी।