Skin Care Tips: गर्मियों में अलग-अलग तरीकों से करें खीरे का इस्तेमाल, नेचुरल रूप से पाएं ग्लोइंग स्किन

Skin Care Tips: खीरा ना सिर्फ आपके सेहत के लिए अच्छा है बल्कि इसमें मौजूद पोषक तत्व आपके स्किन के लिए भी काफी फायदेमंद है। इसके हाइड्रेटिंग गुण आपकी स्किन की नमी को बरकरार रखने में मदद करते हैं।

Skin Care Tips: गर्मियों में स्किन केयर की ज्यादा जरूरत पड़ती है क्योंकि इस समय डार्क और डल स्किन आपके लुक को बिगाड़ देती है। ऐसे में आप खीरे जैसे नेचुरल इंग्रेडिएंट्स की मदद से घर पर ही अपने स्किन का ध्यान रख सकते है। दरअसल, गर्मी में स्किन से हाइड्रेशन तेजी से गायब होने लगता है इसके लिए आप खीरे का इस्तेमाल कर सकते है क्योंकि इसके हाइड्रेटिंग गुण आपकी स्किन की नमी को बरकरार रखने में मदद करते हैं।

खीरे से बनाएं टोनर

दरअसल खीरा में 95 फीसदी पानी की मात्रा पाई जाती है। जिस वजह से आपकी स्किन लंबे समय तक हाइड्रेट रहती है। खीरे से आप टोनर भी बना सकते है इसके लिए आपको पहले खीरे को कद्दूकस करके इसका रस निकालना होगा। फिर इसमें पानी डालकर किसी भी कांच की स्प्रे बोतल में रख दें। रात में सोने से इस टोनर को अपनी स्किन पर स्प्रे कर लें।

खीरे से तैयार करें क्लींजर

खीरे की मदद से आप घर पर ही क्लींजर तैयार कर सकते है। ये आपकी स्किन की डीप क्लीनिंग करने में मदद करता है। इसके लिए पहले खीरे को कद्दूकस करें फिर इसमें थोड़ा शहद और नींबू के रस को मिलाएं। अब इसे अपनी स्किन पर लगाकर हल्के हाथों से रब करें। ऐसा करके इसे कुछ देर के लिए सूखने के लिए छोड़ दें। फिर साफ पानी से चेहरे को साफ कर लें।

खीरे की स्क्रब

खीरे से तैयार स्क्रूब बनाने के लिए आपको पहले इसे कद्दूकस कर लेना है फिर इसमें चावल का आटा मिलाना है। अब आप इस नेचुरल होममेड स्क्रब का इस्तेमाल अपनी स्किन पर कर सकते है। इस स्क्रब को हफ्ते में एक या दो बार ही लगाएं।

खीरे से बना फेस पैक

आप चाहे तो खीरे में हल्दी, बेसन और एलोवेरा जेल को मिलाकर फेस पैक भी तैयार कर सकती है। इससे आपकी स्किन पर नेचुरल निखार आएगा साथ ही ये आपकी स्किन की नमी को भी बनाए रखता है। गर्मी के दिनों में खीरे से तैयार इस फेस मास्क को आप हफ्ते में एक या दो बार लगाएं।

(Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। MP Breaking News किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें।)


About Author
Saumya Srivastava

Saumya Srivastava