सपनों का संसार : दिवाली पर सपने में झाड़ू देखने का है विशेष अर्थ, जानिए शुभ अशुभ संकेत

Secret of Dreams

World of dreams : सपनों की दुनिया बेहद रहस्यमयी है। नींद में जाते ही हम एक ऐसे संसार में प्रवेश कर जाते हैं, जहां जाने कितने जाने अनजाने दृश्य हमारा इंतजार कर रहे होते हैं। सपने कई बार हमें परिचित लगते हैं तो कई बार हैरान भी कर देते हैं। अगर ये मानें कि सपने हमारी नींद में दिखाई देने वाली मानसिक तथा भावनात्मक स्थितियों का परिचायक होते हैं, तो हमें सिर्फ ऐसी ही बातें नजर आनी चाहिए जो हमारे मन जीवन से जुड़ी है। लेकिन कई बार हम सपनों में ऐसा कुछ भी देखते हैं जो बिल्कुल ही अपरिचित और अप्रत्याशित होता है। जिसकी हम कल्पना तक नहीं करते। तो आखिर ऐसी बातों के सपने दिखने का क्या अर्थ होता है।

आखिर क्या है सपनों का रहस्य

इस सब सवालों के जवाब अलग अलग स्थानों पर वहां की धार्मिक मान्यताओं और सामाजिक स्थितियों के अनुसार दिया गया है। कई जगह माना जाता है कि सपने भविष्यवाणी करते हैं। हालांकि इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है और विज्ञान इस बात की पुष्टि भी नहीं करता है। लेकिन इसे लेकर तमाम अवधारणाएं हैं। हमारे यहां ज्योतिष शास्त्र अंतर्गत स्वप्नशास्त्र में सपनों को लेकर कई बातें और संकेत बताए गए हैं। हम सब इस समय दिवाली की तैयारियों में लगे हैं। दीपोत्सव बस आने को है और ऐसे में कई चीजों का बेहद महत्व है। इसमें झाड़ू एक खास वस्तु है। झाड़ू को मां लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। आज हम जानेंगे कि सपने में झाड़ू देखने का क्या अर्थ होता है।

Continue Reading

About Author
श्रुति कुशवाहा

श्रुति कुशवाहा

2001 में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल से पत्रकारिता में स्नातकोत्तर (M.J, Masters of Journalism)। 2001 से 2013 तक ईटीवी हैदराबाद, सहारा न्यूज दिल्ली-भोपाल, लाइव इंडिया मुंबई में कार्य अनुभव। साहित्य पठन-पाठन में विशेष रूचि।