क्या है Pizza का इतिहास, जानिये इस मोस्ट पापुलर डिश की कहानी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। फास्ट फूड में सबसे ज्यादा लोकप्रिय डिश है पिज्जा (Pizza)। बच्चों और युवाओं को ये इटेलियन डिश बहुत पसंद आती है। पिछले कुछ ही सालों में पिज्जा ने हमारे मेन्यू में इस कदर घर कर लिया है कि अब जगह जगह अलग अलग तरह के पिज्जा मिलने शुरू हो गए हैं। एक समय ये काफी महंगा मिलता था लेकिन धीरे धीरे कंपनियों ने इसके इतने वर्जन लॉन्च कर दिये हैं कि ये आम आदमी की पहुंच में भी आ गया है।

ये भी देखिये – SBI के ग्राहक जरा ध्यान दें मिल सकता है बड़ा फायदा, RBI के रेपो रेट बढ़ाने का दिखेगा असर

पिज्जा की शुरूआत इटली (Italy) से हुई। ये डिश करीब ढाई हजार साल पुरानी है। ये उस दौर की बात है जब पर्शिया के सैनिक फ्लैट ब्रेड के ऊपर चीज़ और खजूर रखकर उससे नान बनाते थे। धीरे धीरे ये खाद्य पदार्थ ग्रीस पहुंचा और वहां पर फ्लैट ब्रेड के ऊपर चीज के साथ अलग अलग हर्ब्स, केप्सिकम, प्याज, लहसुन, टमाटर आदि भी डाला जाने लगा। फ्रेंच और इटली के पुरातत्वविदों का माननै है कि करीब 7000 साल पहले इटली के सारडिनिया (Sardinia) आइलैंड पर लोग पिज्जा जैसी डिश लोग खाते थे। ब्रेड के ऊपर अलग अलग तरह की टॉपिंग डालकर खाया जाता था। ग्रीस से इटली पहुंचने की यात्रा में इसे पिज्जा नाम दिया गया जो आज तक चल रहा है। 16वीं शताब्दी में यूरोप में टोमैटो सॉस का चलन बढ़ा। इसके बाद पिज्जा पर भी तरह तरह के प्रयोग किए जाने लगे। उसका स्वाद, रंग, रूप बदलने लगा। जानकारी के मुताबिक इटली के तीसरे सबसे बड़े शहर नेपलिस (Naples) में 18वीं शताब्दी गरीब लोग यीस्ट से बनी फ्लैट ब्रेड पर टोमैटो सॉस लगाकर खाते थे। उस समय तक पिज्जा स्टोर नहीं थे बल्कि ठेले छोटी दुकानों पर इसे बेचा जाता था। कम कीमत वाली ये डिश उस समय गरीब तबके की पसंदीदा थी।

इटली आने वाले पर्यटकों ने जब पिज्जा चखा तो इसका स्वाद उन्हें खूब भाया। धीरे धीरे इसकी लोकप्रियता बढ़ने लगी और रंग रूप भी। इटली के एक बेकर रॉफेल एस्पॉसिटो ने उस समय राजा उम्बेर्टो और मार्गरीटा इटली के झंडे से प्रेरित हरी तुलसी, सफेद मोजरेला और लाल टमाटर के साथर पिज्जा बनाया, जो रानी को बहुत पसंद आया  था। तभी से उस पिज्जा का नाम मार्गरीटा पिज्जा पड़ गया। पिज्जा जब इटली ने निकलकर अन्य देशों में पहुंचा तो उसपर चीज़ के साथ मशरूम, लाल-हरी-पीली शिमला मिर्च, पनीर, कार्न, नॉन वेज टॉपिंग सहित कई और चीज़ें डलने लगी। इटली से आए प्रवासियों के साथ अमेरिका के न्यूयॉर्क में 1905 पिज्जा की पहली दुकान खुली। 1970 के दशक में भारत में भी इसकी आमद हो गई और ये फाइव स्टार होटलों तक पहुंच गया। 1980-90 के दशक में ये पूरे देश में फैलने लगा और कई मल्टीनेशनल कंपनियां आने लगी। आज स्थिति ये है कि हर छोटे बड़े शहर, मोहल्ले में पिज्जा की दुकानें मिल जाएंगी। इसमें कई तरह के लोकल फ्लेवर भी जुड़ गए हैं और लोग अब घरों में ही पिज्जा बनाने लगे हैं।

क्या है Pizza का इतिहास, जानिये इस मोस्ट पापुलर डिश की कहानी