Women’s Equality Day 2022 : महिला समानता दिवस पर लें एक सुंदर दुनिया बनाने का संकल्प

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दी शुभकामनाएं

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज महिला समानता दिवस (Women’s Equality Day 2022) है। दुनियाभर में महिलाओं को समान अवसर उपलब्ध कराने, उनकी स्थिति मजबूत करने और उनके लिए भी पुरुष जितना ही सम्मान व अधिकार दिलाने के उद्देश्य को लेकर ये दिन मनाया जाता है। इस अवसर पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी शुभकामनाएं दी हैं। उन्होने कहा है कि ‘समस्त नारी शक्ति को अंतर्राष्ट्रीय महिला समानता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। महिलाएं किसी भी राष्ट्र के निर्माण और विकास का मुख्य आधार हैं। मेरी समस्त प्रदेशवासियों से अपील है कि उन्हें शिक्षा का, आर्थिक और सामाजिक समानता का अधिकार प्रदान कर सशक्त कीजिए।’

उज्जैन के दीनदयाल रसोई केंद्रों पर मिलेगी महाकाल की भोजन प्रसादी, मुफ्त रहेगी व्यवस्था

ये दुनिया हमेशा से दो भागों में बंटी रही है। महिलाओं को सेकंड सेक्स का दर्जा मिला है और प्राचीनकाल से उनके साथ भेदभावपूर्ण स्थितियां रही हैं। बात चाहे वोट डालने की हो, चुनाव लड़ने की, नौकरी करने की या फिर गर्भपात के अधिकार की। हर चीज के लिए महिलाओं को लंबे संघर्ष से गुजरना पड़ा है। आर्थिक, सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक तौर पर भी हमेशा स्थितियां असंतुलित रही। यही वजह है कि समाज में महिलाएं विकास के अनुक्रम में बहुत पीछे छूट गई। समाज में लैंगिक भेदभाव, कन्या भ्रूण हत्या, स्वास्थ्य के प्रति उपेक्षा, शिक्षा से अधिकार से वंचित रखने के कारण लैंगिक अनुपात गड़बड़ाने लगा। पितृसत्ता ने हमेशा महिलाओं को हाशिए पर रखा और खुद वर्चस्व करती रही।

लेकिन धीरे धीरे समाज में परिवर्तन आना शुरू हुआ है। नारीवाद के लंबे संघर्ष और इसमें पुरुषों की भी सहभागिता ने तस्वीर बदलना शुरु किया है। सरकार ने भी महिलाओं के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरु की और बच्चियों से लेकर वृद्धाओं तक के लिए अलग अलग तरह की स्कीम बनााई है। दुनियाभर में अब भी अलग अलग मुद्दों पर संघर्ष जारी है लेकिन अच्छी बात ये है कि इनके सकारात्मक नतीजे सामने आ रहे हैं। इस दुनिया में महिला पुरुष में समानता रहे और किसी तरह का भेदभाव न महिलाओं के साथ हो न पुरुषों के साथ, तभी जीवन संतुलित और सुंदर बनेगा।