World Diabetes Day 2021: इन तरीकों से शरीर देता है डायबिटीज का संकेत, न करें नजरअंदाज

एक सवाल जिसका जवाब मिलना ही मुश्किल होता है वो ये कि शुगर या डायबिटीज होने से पहले पता क्यों नहीं चला? जवाब बहुत आसान है, पता इसलिए नहीं चला क्योंकि आपका शरीर जिन बदलावों के जरिए आपको आगाह करना चाहता था आप उन्हें नजरअंदाज करते रहे।

डेस्क रिपोर्ट। शुगर या डायबिटीज का नाम ही टेंशन का सबब बन चुका है कोई ये कह भर दे कि आपको शुगर है तो समझिए अब क्या खाएंगे, कब खाएंगे, क्या नहीं खाने ऐसे तमाम सवाल परेशान करने लगते हैं और एक सवाल जिसका जवाब मिलना ही मुश्किल होता है वो ये कि शुगर या डायबिटीज होने से पहले पता क्यों नहीं चला? जवाब बहुत आसान है, पता इसलिए नहीं चला क्योंकि आपका शरीर जिन बदलावों के जरिए आपको आगाह करना चाहता था आप उन्हें नजरअंदाज करते रहे उन लक्षणों पर गौर करते तो शायद ये अंदाजा आसानी से लगा पाते कि आप इस मर्ज के मुहाने पर चुके हैं, उससे बचना शायद मुश्किल हो सकता था, पर, कुछ सावधानियों के बाद उसे कुछ दिनों के लिए पीछे जरूर धकेला जा सकता है, इसलिए बिना देर किए शरीर में आ रहे इन बदलावों को जज करें और डाटबिटीज से बचने की कोशिश करें

बार बार पेशाब आना
शरीर में शुगर बढ़ने पर किडनियां ओवरटाइम करने लगती हैं जब भी शुगर की मात्रा अधिक होती है किडनियां उसे पेशाब के जरिए बाहर निकालने की कोशिश करती हैं जिसकी वजह से बार बार यूरिन आती है, शुगर लेवल बढ़ रहा है या नहीं उसे समझने के लिए ये सबसे आसान निशानी है

ज्यादा प्यास लगना
याद रखिए जब किडनी ज्यादा काम करेगी तो प्यास भी ज्यादा ही लगेगी, क्योंकि शुगर को शरीर से बाहर करने के लिए वो आपके शरीर में मौजूद पानी का ही इस्तेमाल कर रही है

तेजी से वजन कम होना

अगर आप डायटिंग कर रहे हैं या फिर किसी वर्कआउट के जरिए वजन घटाने की कोशिश में हैं तो निश्चित समय में वजन घटेगा पर शुगर लेवल बढ़ने पर वजन असामान्य रूप से घट सकता है, इसलिए तेजी से हो रहे वेट लॉस पर खुश होने की जगह उसे गंभीरता से लें

भूख में कमी
शुगर लेवल ज्यादा होने पर भूख पर भी असर पड़ता है, अचानक भूख लगना कम हो जाती है, जो इस बात का इशारा है कि आपका शुगर लेवल नॉर्मल नहीं है

ईस्ट का इंफेक्शन
शुगर लेवल बढ़ने का नुकसान ये है कि आपके शरीर में ही ईस्ट डिपोजशन शुरू हो जाता है, शरीर के वो सभी हिस्से जहां शुगर जम सकती है वहां ईस्ट अपना भोजन ढूंढने के बहाने जमना शुरू हो जाता है मुंह के आसपास, जनाइटल अंगों के आसपास ईस्ट का संक्रमण हो सकता है

जख्म न भरना
शुगर लेवल बढ़ने का सबसे ज्यादा खामियाजा चोट लगने पर भुगतना पड़ सकता है अगर हल्की सी भी चोट भरने में जरूरत से ज्यादा वक्त ले तो समझ लीजिए आपका शरीर डायबिटीज के खतरे की तरफ इशारा कर रहा है

स्किन का कलर बदलना
शुगर के शुरूआती हमले से शरीर के कुछ हिस्सों की त्वचा का रंग और टेक्शचर दोनों बदल सकता है, गर्दन और अंडर आर्म्स में डार्क पैचेस और वेलवेट की तरह चमड़ी दिखना इसका संकेत हो सकता है