नकली पुलिस और फर्जी बाबा बनकर ठगी करने वाले 2 गिरफ्तार, जाल बुनकर ऐसे फंसाते थे लोगों को

दोनों ही शातिर अपराधी पुलिस रिमांड पर हैं और दोनों से ही कई बड़े खुलासे की उम्मीद है। इस पूरे मामले में पुलिस की तफ्तीश जारी है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) की विजय नगर पुलिस को एक युवती द्वारा मिली शिकायत के बाद एक बडे ठगोरी गैंग का खुलासा हुआ है। इस गैंग के दो सरगनाओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और रिमांड लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। दरअसल ठगी का ताना बाना कुछ इस कदर बुना जाता था कि आर्थिक तंगी और अलग अलग समस्याओं से जूझ रहे लोगों को पहले तो विश्वास में लिया जाता था और फिर उनसे लाखों रुपए ऐंठकर धोखा दिया जाता था।

ये भी पढ़ें- Bhind news : जायदाद के लिए सुपारी देकर पिता की हत्या कराने वाले 3 आरोपी गिरफ्तार

जुर्म की दुनिया की काली सच्चाई की परत उस वक्त खुलने लगी जब एक महिला और एक युवती ने विजय नगर पुलिस को नकली पुलिस अधिकारी के खिलाफ शिकायत की। कभी खुद को गृह मंत्रालय का अंडर कवर एजेंट, तो कभी बड़ा पुलिस अधिकारी बताने वाले रवि उर्फ राजवीर सोलंकी अब पुलिस की गिरफ्त में है। वहीं उसके साथ ठगी की वारदात को तांत्रिक तरीके से अंजाम देने वाली सीमा उर्फ छोटू महाराज को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल, सीमा नाम की एक महिला लंबे समय से तंत्र मंत्र के लुभावने जाल में महिलाओं व युवतियों को फंसाती है और फिर रवि उर्फ राजवीर सोलंकी को अपना आईपीएस ऑफिसर बेटा बताकर नौकरी का झांसा देती थी। बाकायदा इसके लिए राजवीर ने किसी को रेलवे तो किसी को होमगार्ड और किसी को पुलिस में हवालदार के पद पर नौकरी दिलाने के एवज में युवतियों से 1 लाख से लेकर 3 लाख तक ठगी की है। इन मामलों में कई बार पुलिस को भी शिकायत मिल चुकी है।

ये भी पढ़ें- गृहमंत्री की कांग्रेस MLA को चेतावनी- अपराधी बेटा 2 दिन में हाजिर नहीं हुआ तो कड़ी कार्रवाई

इधर, छोटू महाराज उर्फ सीमा की कुंडली तो पुलिस के पास आ गई है लेकिन आईबी और भारत सरकार का अंडर कवर एजेंट बताकर युवतियों को जाल में फंसाने वाले रवि उर्फ राजवीर सोलंकी के पूरे गिरोह के बारे में पुलिस तफ्तीश कर रही है। दरअसल, बीते दिन एक मामला सामने आया था जहां बदमाश रवि ने खुद को आरक्षक बताकर एक युवती से सगाई की थी और उससे 8 लाख रुपये भी ऐंठ लिए थे। वहीं कुछ माह बाद ही वह एसआई के तौर पर युवती से मिला और उसे बताया कि उसे प्रमोशन मिल गया और वो टीआई भी बन गया है। लिहाजा, युवती को शक हुआ और उसने पुलिस की मदद ली और इसके बाद मीडिया में पूरा मामला सामने आने के बाद एक के बाद एक रवि उर्फ राजवीर के खिलाफ शिकायतें आने लगीं। इसके बाद तो एक शो रूम संचालक की पत्नि ने 20 लाख की धोखाधड़ी की शिकायत की। वहीं पुलिस ने जब छानबीन शुरू की तो छोटू महाराज उर्फ सीमा नंदगिरी के सुपर कॉरिडोर स्थित आश्रम से तीन जिंदा उल्लू मिले और तंत्र-मंत्र का सामान भी मिला। वहीं नकली पुलिस अधिकारी रवि उर्फ राजवीर के मोबाइल डिटेल खंगाली गई तो कई युवतियों के नम्बर मिलने के साथ ही उसके पास फर्जी आई कार्ड भी मिले।

फिलहाल, दोनों ही शातिर अपराधी पुलिस रिमांड पर है और विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी ने बताया कि पूछताछ में दोनों से ही कई बड़े खुलासे की उम्मीद है। बता दें कि छोटू महाराज उर्फ सीमा शादीशुदा है और वो इंदौर के अंबेडकर नगर की रहने वाली है जिसकी शादी बाद में देवास में हुई थी और उसके बेटे व बेटी की शादी के बाद वह तंत्र-मंत्र के चक्कर को अपनाकर दीक्षा लेकर छोटू महाराज बन गई। फिलहाल, इस पूरे मामले में पुलिस की तफ्तीश जारी है।