सेवानिवृत्त होने पर मिली भावभीनी विदाई, आयुक्त ने भृत्य की पोती को दिये 51 हजार रुपये

खास बात ये है कि नगर निगम आयुक्त ने सेवानिवृत्त भृत्य राजसिंह दरबार की पर पोती को स्वयं के बजट से 51 हजार रूपए की राशि दान स्वरूप प्रदान की।

खंडवा, सुशील विधानी। अक्सर शासकीय सेवा में लगातार कार्य करते हुए जब कोई व्यक्ति अच्छे कार्य करता है तो उसकी प्रशंसा होती है। इसी बीच पिछले 25 वर्षो से खंडवा नगर निगम में आयुक्त कक्ष में अपनी सेवा दे रहे भृत्य राजसिंह दरबार 30 जुलाई को सेवानिवृत्त हो गए। नगर निगम सभागृह में राजसिंह दरबार का विदाई समारोह आयोजित हुआ जिसमें निगमायुक्त सविता प्रधान गौड़ के साथ ही निगम के सभी अधिकारी-कर्मचारियों ने पुष्पमाला व मिठाई खिलाकर भावभीना स्वागत व अभिनंदन किया।

सेवानिवृत्त होने पर मिली भावभीनी विदाई, आयुक्त ने भृत्य की पोती को दिये 51 हजार रुपये

ये भी पढ़ें- Transfer: तबादले फर्जीवाड़े में नया मोड़, 30 अधिकारियों को भेजा गया नोटिस, FIR दर्ज

समाजसेवी व पूर्व पार्षद सुनील जैन ने बताया कि हर्ष का विषय यह रहा कि निगम के इतिहास में पहली बार किसी आयुक्त ने अपने स्वयं के बजट से 51 हजार रूपए की राशि दान स्वरूप प्रदान की। विदाई समारोह कार्यक्रम में निगमायुक्त सविता प्रधान ने जहां निगम की ओर से 80 हजार रूपए का चेक प्रदान किया वहीं अपनी ओर से राजसिंह उनकी पोती परी के लिए 51 हजार रूपए की एफडी देते हुए शाल श्रीफल से सम्मानित किया। विदाई समारोह में निगमायुक्त सविता प्रधान के साथ ही उपायुक्त दिनेश मिश्रा, नगर निगम के एचआर, पूर्व पार्षद हरीश कोटवाले, सुनील जैन समेत निगम के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे जिन्होंने राजसिंह दरबार का पुष्पमाला पहनाकर स्वागत किया। इस अवसर पर राजसिंह दरबार का पूरा परिवार मौजूद था।