तेज धमाके के बाद धराशायी हुआ मकान, मलबे में दबकर एक साल के मासूम समेत तीन की मौत

मुरैना जिले में बुधवार सुबह एक दर्दनाक हादसा हो गया। यहां एक घर में ब्लास्ट के बाद मलबे में दबकर तीन लोगों की मौत हो गई।

मुरैना, डेस्क रिपोर्ट। मुरैना (morena) जिले में बुधवार सुबह एक दर्दनाक हादसा हो गया। यहां एक घर में ब्लास्ट के बाद मलबे में दबकर तीन लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में पति- पत्नी और एक साल का मासूम शामिल है। वहीं इस हादसे में तीन अन्य बच्चे गंभीर रुप से घायल हुए है, जिन्हें ईलाज के लिए ग्वालियर (gwalior) रैफर किया गया है।

जानकारी अनुसार माता बसैया थाना इलाके के जीगनी गांव में 30 वर्षीय बंटी खान अपनी पत्नी रुबी खान (27 वर्ष) और तीन बच्चों के साथ रहता था। बंटी और उसकापरिवार आतिशबाजी बनाने का काम करते थे लेकिन लॉकडाउन में बंटी ने वह काम छोडक़र मूंगफली बेचना शुरू कर दिया था। उनके घर में अब भी पटाखे बनाने में इस्तेमाल होने वाला बारुद रखा हुआ था। बुधवार सुबह करीब 5:30 बजे उनके घर में तेज धमाका हुआ और पूरा घर ध्वस्त हो गया। तडक़े सुबह हुए धमाके की आवाज सुनकर आस पड़ोस के लोग भयभीत हो गए और घर से बाहर निकलकर देखा तो हादसे का पता चला। लोगों ने तत्काल पुलिस को सूचना दी।

सूचना के बाद पुलिस- प्रशासन तत्काल दमकल अमले के साथ मौके पर पहुंच गया और बचाव कार्य शुरू किया। दमकल की टीम ने मलबे से बंटी खान, उनकी पत्नी वर्षीय रूबी खान और एक साल के बच्चे अमन का शव बाहर निकाला। वहीं मलबे में दबे तीन अन्य मासूम बच्चों को गंभीर घायल अवस्था में ईलाज के लिए ग्वालियर रैफर किया गया है। प्राथमिक जांच में पुलिस किसी कारण से बारुद से आग लगने की आशंका जता रही है, वहीं कुछ लोग सिलेंडर ब्लास्ट होने के कारण आग लगने की बात भी कह रहे हैं। घटना का पूरा सच जांच के बाद ही सामने आ सकेगा। पुलिस घटना की जांच में जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here