नागदा में इंसानियत की सारी हदें पार! ससुराल वालों ने महिला की जीभ, गला और स्तन काटे, पति फरार अन्य आरोपी गिरफ्तार

पीड़ित महिला पर चरित्र शंका (Character doubt) के चलते उसके पति और ससुराल वालों ने घर में बंद करके उसकी जीभ, स्तन और गला काट (Slit) दिया। इसके बाद वह महिला को मारते हुए घर के बाहर लेकर आए और उसे मरा समझकर घर के बाहर ही फेंक दिया।

उज्जैन/नागदा,डेस्क रिपोर्ट। प्रदेश के नागदा जिले (Nagda District) से एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। जिस जिस को वारदात के बारे में पता चल रहा है सबकी रुह कांप उठ रही है। नागदा जिले के विद्या क्षेत्र में रहने वाली एक महिला के साथ उसके पति सास ससुर और मौसी सास द्वारा ऐसी क्रूरता (Cruelty) को अंजाम दिया गया है जिसको सुनकर इंसानियत भी शर्मसार हो रही है।

पीड़ित महिला पर चरित्र शंका (Character doubt) के चलते उसके पति और ससुराल वालों ने घर में बंद करके उसकी जीभ, स्तन और गला काट (Slit) दिया। इसके बाद वह महिला को मारते हुए घर के बाहर लेकर आए और उसे मृृत समझकर घर के बाहर ही फेंक दिया। इस वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार (Accused absconded) हो गए थे, जिसमें से सासुर और मौसी सास को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं फरार चल रहे आरोपी पति की तलाश की जा रही है।

नागदा पुलिस ने फरार आरोपी ससुर को चंद्रावतीगंज और रिश्तेदार महिला को उसके घर मेहतवास से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस द्वारा एक बाइक भी जब्त की गई है। वहीं पूरे मामले को लेकर ASP आकाश भूरिया ने बताया कि मुख्य आरोपी पति को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं पीडिता के बारे में बताते हुए एएसपी ने कहा कि पीड़िता को इंदौर के एमवाय हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

वहीं वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची, जहां महिला को तुरंत पुलिस द्वारा नागदा अस्पताल भेजा गया। महिला की हालत इतनी खराब थी कि उसे नागदा अस्पताल में प्राथमिक उपचार देने के बाद फौरन इंदौर रेफर कर दिया गया, जहां महिला जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है। पूरे मामले में बिरलाग्राम थाना पुलिस ने पति सास-ससुर व अन्य महिला रिश्तेदार को आरोपी बनाते हुए मामला पंजीबद्ध कर लिया है।

पूरा मामला नागदा से लेकर विद्या नगर क्षेत्र का है, जहां मंगलवार की सुबह महिला के चिल्लाने की आवाज आ रही थी। वही ससुराल वाले महिला को मारते हुए घर के बाहर लेकर आए, इधर पति के हाथ में तलवार लहरा रही थी। खून से लथपथ महिला को मृत समझ कर उसे घर के बाहर ही फेंक दिया गया और आरोपी वहां से फरार हो गए।

पूरे मामले को लेकर बिरलाग्राम थाना पुलिस (Bilgram Police Station) ने बताया कि आरोपी पति राजेश सोलंकी, ससुर सीताराम सोलंकी मौसी सास कलाबाई और महिला की सास गेंदा बाई जोकि मेहतवास के रहने वाले हैं, उनके खिलाफ 307 के अंतर्गत प्राणघातक हमला करने का मामला दर्ज कर लिया गया है। वहीं आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने तीन टीमों का गठन किया है। तीनों टीमों को आरोपियों को पकड़ने के लिए रवाना किया गया है। थाना प्रभारी का कहना है कि पूरा मामना प्रथम दृष्टया चरित्र शांका का सामने आ रहा है। मामले को दर्ज कर लिया गया है और बाकी जांच जारी है।

बता दे कि महिला की 15 साल पहले राजेश के साथ शादी हुई थी। दोनों के एक 14 और एक 5 साल का बेटा भी है। राजेश पेशे से ड्राइवर है और अधिकतर वह घर से बाहर रहता था। जी ब्लॉक में महिला सास-ससुर के साथ टपरी में रहती है। वही महिला अपने किसी रिश्तेदार के घर चली गई थी, जिसे राजेश एक दिन पहले ही लेकर आया था। इसी वजह से उसकी हत्या का षडयंत्र रचा गया। बता दें कि महिला के साथ क्रूरता की हद इस तरह से पार की गई कि तलवार से उसकी जीव गाल जबड़ा और स्तन काटा गया, वहीं बेलन भी महिला के मुंह और प्राइवेट पार्ट में घुसा दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here