मुरैना, संजय दीक्षित। पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया द्वारा जिले में विधानसभा चुनाव (Assembly elections) को शांतिपूर्ण संपन्न करने के लिए अवैध शराब, हथियार और स्थाई वारंटीओं की धरपकड़ के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ हंसराज सिंह एवं एसडीओपी अशोक सिंह जादौन ने हथियारों के संबंध में प्रभावी कार्रवाई करते हुए सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए है।

इसी निर्देशन में पोरसा थाना प्रभारी अतुल सिंह को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि विधानसभा उपचुनाव में सनसनी फैलाने के लिए दुबले शरीर का एक व्यक्ति काफी मात्रा में हथियार लेकर खरगोन से खरीद कर पोरसा में लेकर आया है। जो इलाके में सनसनी फैलाना चाहता है। मुखबिर की सूचना से थाना प्रभारी द्वारा उपनिरीक्षक धर्मेंद्र मालवीय और टीम को भेज कर आरोपी को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए गए। पुलिस ने उपरोक्त हुलिए के व्यक्ति को शाम के लगभग 7:30 बजे के आसपास पोरसा- अंबा रोड पचपेड़ा तिराहे पर बस से उतरते हुए देखा। युवक धरमगढ़ गांव की तरफ जा रहा हैं। पुलिस ने युवक की घेराबंदी कर हाथ में थैले की तलाशी ली तो उसके अंदर हाथ से बनी हुई 32 बोर की करीब 10 पिस्टल और 10 जिंदा राउंड जप्त किए गए। जिनकी कीमत करीब 4 लाख रुपए और दो हज़ार रुपए कारतूस के बताए गए है। आरोपी संतोष पुत्र गिरधर गिरवर कुशवाह उम्र 50 साल निवासी करैरा पुरा चिंनोनि थाना बागचीनी के खिलाफ धारा 25, 27 आम्र्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उपरोक्त हथियार खरगोन से खरीद कर पोरसा लाया है और 40-40 हज़ार रुपए में बेचने की योजना थी। उपरोक्त अवैध हथियारों की बरामदगी में थाना प्रभारी अतुल सिंह, उप निरीक्षक धर्मेंद्र मालवीय, आरक्षक अनिल दोहरे, रविंद्र बरैया, गजेंद्र सिंह लोधी, नरेंद्र सिंह और मनोज की सराहनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया के द्वारा टीम को नगद पुरस्कार देने की घोषणा की गई है।