MP News : जनवरी में सुनाई देगी अफ़्रीकी चीते की दहाड़, स्वागत की हो रही तैयारियां

कूनो पालपुर नेशनल पार्क श्योपुर में अफ़्रीकी चीतों के लिए आवश्यक तैयारियां अंतिम चरणों में हैं।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  अफ़्रीकी चीते (African cheetahs) को देखने और उसकी दहाड़ सुनने का इन्तजार जल्दी ही ख़त्म होने वाला है।  जनवरी में दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन (Cape Town, South Africa) से चीते मध्य प्रदेश( MP News) आएंगे।  इनका नया घर कूनो पालपुर नेशनल पार्क श्योपुर (Kuno Palpur National Park Sheopur) होगा। केंद्र सरकार से मंजूरी मिलने के बाद से ही अफ़्रीकी चीतों के लिए की जाने वाली विशेष तैयारियां शुरू कर दी गई थी अब जल्दी ही अफ़्रीकी चीतों की दहाड़ मध्य प्रदेश में सुनाई देगी।

दक्षिण अफ्रीका के शहर केपटाउन से भारत लाये जा रहे चीते मध्य प्रदेश आ रहे हैं। इन्हें कूनो पालपुर नेशनल पार्क में रखा जाएगा।  कूनो पालपुर नेशनल पार्क के डीएफओ पीके वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि सबकुछ ठीक रहा तो  दक्षिण अफ्रीका से चीते मध्य प्रदेश के ग्वालियर(Gwalior News)  पहुंचेंगे। यहाँ से उन्हें विशेष वाहन से नेशनल पार्क लाया जाएगा।  उन्होंने कहा कि पहले इन्हें नवम्बर तक आ जाना था लेकिन बारिश और बाढ़ के कारण रास्तों को हुए नुकसान के बाद दो महीने का समय बढ़ा दिया गया अब ये जनवरी में आएंगे।

ये भी पढ़ें – मिशन 2023 : आदिवासी कांग्रेस की बैठक, 24 नवंबर को भोपाल में

डीएफओ पीके वर्मा ने बताया कि चीतों को ग्वालियर एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से कूनो पालपुर नेशनल पार्क लाया जाएगा। ये विशेष केज में लाये जायेंगे जो अफ्रीका से ही लाये जायेंगे।  उन्होंने बताया कि चीतों के लिए की जा रही तैयारियां अंतिम चरणों में है।  विशेष बाड़े का निर्माण इस महीने के अंत तक हो जाएगा, पानी की व्यवस्था और घास के मैदान की तयारी भी साथ साथ चल रही है।  15 दिसंबर तक अफ़्रीकी चीतों के लिए जरुरी तैयारियां पूरी हो जाएंगी। उन्होंने  10 या 12 चीते आ रहे हैं इसमें नर की संख्या अधिक होगी।

ये भी पढ़ें – सर्दियों में रहना चाहते हैं तंदुरुस्त, करें इन चीजों का सेवन

गौरतलब है कि वन विभाग को राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (National Tiger Conservation Authority) का सहमति पत्र मिलने के बाद से दक्षिण अफ्रीका से चीतों के लाये जाने का रास्ता साफ हो गया था। चीतों के लिए  कूनो पालपुर नेशनल पार्क का चयन होने के बाद से अफ़्रीकी चीतों विशेष बाड़े का निर्माण भी शुरू कर दिया था वहीं वन विभाग ने ग्वालियर से श्योपुर तक चीतों को लाने के लिए 25 लाख रुपये कीमत के वाहन खरीदी को भी मंजूरी दे दी है।  ये विशेष वाहन दुर्घटना के बावजूद चीतों को सुरक्षित रखेगा।

ये भी पढ़ें – रेल यात्रीगण कृपया ध्यान दें – जबलपुर से गुजरने वाली ये दो ट्रेन रद्द

मध्यप्रदेश में अब जनवरी के महीने में श्योपुर में अफ्रीकन चीतों की दहाड़ सुनने को मिलेंगी। कहा जा रहा है, 20 चीतों को अफ्रीका से कूनो नेशनल पार्क में लाने जाने की फाइल को सरकार और विभाग से मंजूरी मिल गयी है। साथ ही उन्हें दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन से हवाई मार्ग से ग्वालियर तक लाए जाएंगे। इसके बाद ग्वालियर से कूनो पार्क तक सड़क मार्ग से आएंगे। इसके लिए वन विभाग ने ट्रांसपोर्टेशन के लिए 25 लाख से खरीदी जाने वाले वाहन की मंजूरी दे दी है। वाहन की अहम बात यह होगी ग्वालियर से आने के दौरान कोई दुर्घटना होती है तो चीते पूरी तरह सुरक्षित रहेंगे।