आंगनवाड़ी में अब अंडे नहीं, गाय का दूध बंटेगा, सीएम शिवराज ने किये कई बड़े एलान

सीएम ने कहा गौ माता का दूध अमृत है, अब हम आगनवाड़ी में अंडा नहीं दूध पिलाने का काम करेंगे। गौ माता का हर उत्पाद अमृत है। पर्यावरण बचाना है तो हमें गौ-काष्ठ का उपयोग करना होगा

आगर-मालवा, डेस्क रिपोर्ट| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने आगर मालवा (Agar Malwa) जिले के गौ-अभ्यारण्य, सालरिया में 36 लाख 55 हजार के 5 निर्माण कार्यां का भूमिपूजन किया। आयोजित कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए सीएम शिवराज ने कई बड़े एलान किये| सीएम ने कहा गौ माता का दूध अमृत है, अब हम आगनवाड़ी में अंडा नहीं दूध पिलाने का काम करेंगे। गौ माता का हर उत्पाद अमृत है। पर्यावरण बचाना है तो हमें गौ-काष्ठ का उपयोग करना होगा

मुख्यमंत्री ने कहा गाय के दूध, गोबर और गोमूत्र जैसे उत्पादों को मध्यप्रदेश सरकार बढ़ावा देगी। सरकार द्वारा कानून बनाया जाएगा जिसके गौशालाओं का संचालन किया जाएगा। पंचायतों में गोवंश के प्रबंधन के लिए 15वें वित्त आयोग से राशि का आवंटन किया जाएगा। मध्यप्रदेश में हम और अधिक गौ शालाएं खोलेंगे। अकेली सरकार नहीं समाज से सहयोग से गौ शालाओं का संचालन होगा। समाज सेवी संस्थाओं के साथ हम गौ शालाएं चलाएंगे। मध्यप्रदेश में गौ वंश के इलाज के लिए संजीवनी योजना को फिर से प्रारंभ किया जाएगा

शिवराज ने कहा हम बिजली, सड़क, पानी की सुविधा दिलाने के लिये सभी काम करेंगे। लेकिन गौ सेवा का काम भी हमारी सरकार पूरी ताकत के साथ करेगी। इसलिये हमने मंत्रियों की समिति बनाई है। ये काम अकेले सरकार नहीं करेगी। आपका सहयोग भी इसमें चाहिये| गाय का गोबर धरती के लिये अमृत का काम करता है। गोबर का खाद हमें बीमारियों से बचायेगा। गोमूत्र से बनी दवाई से कई बीमारियां दूर होती हैं। पर्यावरण की रक्षा के लिये गौ-काष्ठ को जलाना फायदेमंद है| उन्होंने कहा कि आप सभी एक चीज तय कर लें कि अब परिवार में किसी की चिता जले तो उसके लिए लकड़ी का नहीं, बल्कि गोबर के कंडे का उपयोग करेंगे। अगर होलिका दहन करना हो तो कंडे से होलिका दहन करना, जिससे पेड़ बचेंगे

सीएम ने कहा क‍ि गाय बचेगी तभी हम आत्‍मन‍िर्भर बनेंगे। उन्‍होंने कहा क‍ि गोबर का खाद हमें बीमा‍र‍ियों से बचाएगा। गौशाला के ल‍िए सरकार अधिन‍ियम बनाएगी। उन्होंने कहा कि गाय हमारी माता है। उनमें 33 करोड़ देवी-देवाताओं का वास होता है। जिस घर में गौ माता रहतीं हैं उस घर में सकारात्मक ऊर्जा फैलती रहती है।

मुख्यमंत्री ने रविवार को आगर मालवा जिले के गौ-अभ्यारण्य, सालरिया में 36 लाख 55 हजार के 5 निर्माण कार्यां का भूमिपूजन किया। भूमिपूजन कार्यां में नवीन तालाब कामधेनु फरसपुरा लागत 14.61 लाख रुपए, सेमली के रास्ते पर फरसपुरा चेकडैम निर्माण कार्य लागत 9.33 लाख रुपए, डगआउट पौण्ड निर्माण अनुसंधान केन्द्र के पास एवं आवासीय परिसर के पास गौ-अभ्यारण्य फसरपुरा लागत 3.33-3.33 लाख रुपए तथा कन्टूर ट्रेंच निर्माण कार्य गौ-शाला के रास्ते के पास लागत 5.95 लाख रुपए शामिल हैं।