यहां ग्रामीणों ने किया मतदान का बहिष्कार, अधिकारियों के हाथ-पांव फूले, मानने पहुंचे तहसीलदार

Villagers-here-boycott-voting-in-MP

आगर मालवा।

देश के सातवें और मप्र के चौथे व आखिरी चरण की आठ लोकसभा सीटों के लिए सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया है। सुबह से ही मतदान केन्द्रों पर लंबी लंबी कतरे लगी हुई है। लोगों में काफी उत्साह देखा जा र���ा है।दोपहर में तेज गर्मी से बचने के लिए अधिकतर मतदाता सुबह जल्दी मतदान करने पहुंच रहे हैं। साथ ही कई जगहों पर ईवीएम खराब होने की खबरें भी सामने आ रही है, जिसके चलते वोटिंग देर से शुरु हो सकी। वही मध्यप्रदेश के आगर मालवा जिले में ग्रामीणों द्वारा मतदान का बहिष्कार किया गया है।विरोध की सूचना मिलते ही आला अधिकारी ग्रामीणों को मनाने पहुंचे है।

दरअशल,  आगर-मालवा के मतदान केंद्र क्रमांक 212 ग्राम ठिकरिया में मतदान के बहिष्कार की सूचना सामने आई है। गांव में 8 किमी पहुंच मार्ग की मांग को लेकर बहिष्कार किया। गांव में कुल 798 मतदाता है। सूचना मिलते ही अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। खबर है कि तहसीलदार उन्हें मनाने के लिए पहुंचे। अधिकारियों और तहसीलदार द्वारा लगातार ग्रामीणों को समझाइश दी जा रही है।लेकिन ग्रामीणों सड़क की मांग को लेकर अड़े हुए है, जिसके चलते यहां एक भी वोट नही डला है।वही सोनकच्छ विधानसभा के गांव पटाड‍िया के नजदीक ईवीएम खराब होने से मतदान देरी से शुरू हुआ। सेक्टर प्रभारी के आने के बाद दूसरी मशनी लगाई गई। करीब 7:30 बजे मॉकपोल के बाद मतदान शुरू हो सका।इससे पहले तीन चरणों की वोटिंग के दौरान भी कई गांवों में मतदान का बहिष्कार किया गया था, कई जगह तो लोगों ना के बराबर वोट डालने पहुंचे थे।

गौरतलब है कि  मध्यप्रदेश की 8 सीटों पर अब तक 12.61 प्रतिशत वोटिंग हुई है। देवास में 14.60 प्रतिशत, उज्जैन में 11.68 प्रतिशत, मंदसौर में 14.64 प्रतिशत, रतलाम में 12.08 प्रतिशत, धार में 7.51 प्रतिशत, इंदौर में 10.84 प्रतिशत, खरगोन में 16.65 प्रतिशत और खंडवा में 13.29 प्रतिशत मतदान हुआ है। इस दौरान एक करोड़ 49 लाख 13 हजार 890 मतदाता 82 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। इन लोकसभा क्षेत्र के 16 जिलों में 18 हजार 411 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए 56 हजार 92 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। वहीं चुनाव आयोग 3700 से ज्यादा मतदान केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरों और वेबकॉस्टिंग के माध्यम से निगरानी रखेगा।