भाजपा नेताओं ने अधिकारियों की हठधर्मिता के खिलाफ दी आंदोलन की चेतावनी, जानें क्या है पूरा मामला

Amit Sengar
Published on -

Alirajpur News : अलीराजपुर जिले में सत्ता रूढ़ भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष नागर सिंह चौहान, वन विकास निगम के अध्यक्ष माधोसिंग डावर, भाजपा जिलाध्यक्ष मकु परवाल, जोबट विधायक प्रतिनिधि और अन्य जनप्रतिनिधि ने कलेक्टर, DFO की हठधर्मिता के हुए खिलाफ प्रेसवार्ता कर आंदोलन की चेतावनी दी।

क्या है पूरा मामला

आदिवासी समाज के लोग मृत्यु के साथ ही अन्य सामाजिक रितिरिवाज को संपन्न करने के लिए लकड़ी पर ही भोजन बनाते है सोमवार को सुबह जिले के बोकडिया गांव में जंगल के कटी हुई लकड़ी लेकर एक ट्रैक्टर गुजर रहा था, यह टैक्टर घर पर आयोजित मृत्यु भोज के लिए लकड़ी लेकर जा रहा था, इसी दौरान DFO मयंक गुर्जर गुजर रहे थे साहब ने गाड़ी रुकवा ट्रेक्टर को देखा लकड़ियां जंगल से कटाई कर लाई हुई दिखाई दी, तत्काल DFO साहब ने ट्रैक्टर को जप्त कर वन विभाग के कैम्पस में लाकर खड़ा कर दिया।

यह बात जब पीड़ित ग्रामीण व्यक्ति ने भारतीय जनता पार्टी के जनप्रतिनिधि को बताई तो सभी ने DFO मयंक गुर्जर से संपर्क कर ट्रेक्टर को छोड़ने को कहा तो DFO साहब ने हठधर्मिता दिखाते हुए कार्रवाई करने की बात कह दी, यह बात जनप्रतिनिधियों को नागवार गुजरी तो जनप्रतिनिधि सभी कलेक्टर राघवेंद्र सिंह से मिलने कलेक्टर कार्यालय पहुंच गए कलेक्टर साहब ने भी जनप्रतिनिधियों के द्वारा कही बात को नजर अंदाज कर दिया जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी के सभी पदाधिकारी भाजपा कार्यालय पहुंचे और प्रेसवार्ता बुलाकर अधिकारियों की हठधर्मिता के खिलाफ मंगलवार से कलेक्टर कार्यालय का घेराव कर आंदोलन की चेतावनी की बात कह दी।
अलीराजपुर से यतेंद्र सिंह सोलंकी की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News