आजादी के 72 साल बाद पूरा होने जा रहा अलीराजपुर का सपना

अलीराजपुर| 72 सालो के बाद आदिवासी जिला अलीराजपुर का सपना पूरा होने जा रहा है। दिवाली पर रेल्वे विभाग ने अलीराजपुर को बड़ी सौगात दी है। जी हां अलीराजपुर में 30 अक्टूबर को क्षेत्रिय सांसद गुमानसिंह डामोर ट्रैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेगें। फिलहाल अभी एक ही ट्रैन कुछ समय तक के लिए चलाई जाएगी जिसके बाद धीरे धीरे यहां पर ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाएगी। पिछले महीने आलीराजपुर से छोटा उदयपुर के बीच में 8 कोच वाली ट्रेन का स्पीड ट्रायल 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हुआ था। 

जिलेवासियों का बहुप्रतिक्षित रेल सेवा शुरू होने का सपना अब अपने अंतिम चरण में है। 30 अक्टुबंर को ट्रैन के शुभारंभ को लेकर रेलवे ने सभी तैयारीयां करना शुरू कर दिया है वो हलवाई हो या फिर टेंट। वहीं रेलवे स्टेशन को 30 अक्टूबर को दुल्हन की तरह सजाया जाएगा।  यह खबर फेलते ही जिले के लोगो में खुशी की एक लहर सी दौड़ पड़ी हैं। अब सब लोग ट्रैन सेवा शुरू होने का इंतजार कर रहे है।


आजादी के 72 साल में पहली बार चलेगी ट्रेन

आदिवासी बहुल अलीराजपुर जिले में पिछले दिनों जब ट्रेन का टेस्टिंग इंजन पहुंचा तो सैकड़ों लोग उसे देखने और स्वागत करने भावुक होकर उमड़ पड़े थे|  लोगों ने ढोल ढमाको और आतिशबाजी के साथ इंजन का स्वागत किया|  अलीराजपुर मध्यप्रदेश का वह जिला है जिसकी 89 प्रतिशत आबादी आदिवासी है, और यह जिला देश के पिछड़े जिलों में शुमार है, इसलिए इस इलाके मे ट्रेन आना विकास की उम्मीद जगाता है. इलाके के लोग और स्थानीय नागरिक बहुत खुश हैं| 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here