जय किसान ऋण माफ़ी योजना के हितग्राहियों को वितरित किए किसान सम्मान पत्र

अलीराजपुर। यतेन्द्रसिंह सोलंकी।

अलीराजपुर में तहसील स्तरीय किसान सम्मेलन का आयोजन हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि म.प्र. शासन में नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन विभाग मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल थे। सम्मेलन में विषेष अतिथि विधायक झाबुआ क्षेत्र श्री कांतिलाल भूरिया, विधायक श्री मुकेष पटेल, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती सेना पटेल, जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री महेष पटेल थे। किसान सम्मेलन का शुभारंभ अतिथिगण ने मां सरस्वती की प्रतिमा का पूजन, दीप प्रज्जवलन और पुष्पमाला अर्पित करके किया। कार्यक्रम में अतिथिगण ने बालिकाओं का पूजन किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिले के प्रभारी मंत्री श्री बघेल ने प्रदेष सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए कहा प्रदेष सरकार अपने वचन अनुरूप किसानों के ऋण माफ कर रही है।

उक्त सम्मेलन के माध्यम से द्वितीय चरण में 5 हजार 352 किसानों को 34 करोड 27 लाख रूपये का कर्ज माफ किया जा रहा है। उन्होंने कहा इसके पष्चात तृतीय चरण में किसानों के कर्ज की माफी भी होगी। उन्होंने कहा प्रदेष सरकार किसानों के साथ साथ प्रत्येक वर्ग के हितों के लिए प्रतिबद्ध है। आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र में विकास भी अपार संभावनाएं है। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ क्षेत्र के विकास हेतु लगातार काम कर रहे है। उन्होंने बताया डही में टन्टीयां मामा उदवहन सिंचाई योजना से कुक्षी के साथ-साथ अलीराजपुर और जोबट क्षेत्र के कई ग्रामों को नर्मदा का जल मिलेगा। जिससे क्षेत्र की सिंचाई और पेयजल संबंधित समस्याओं का समाधान होगा। इससे क्षेत्रवासियों को रोजगार के साथ-साथ पलायन रुकेगा। उन्होंने बताया प्रदेश सरकार महिला स्वयं सहायता समूहों को सक्षक्त और सक्षम बनाने के लिए विषेष प्रयास कर रही है।

इसमें जय किसान ऋण माफी के किसान सम्मान पत्र, सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के 32 हितग्राही, तीन हितग्राहियों को ट्रॉइसीकल वितरण, 50 हितग्राहियों को वर्मी कम्पोस्ट एवं मेढबंधान स्वीकृति पत्र, मुख्यमंत्री मदद योजना के तहत 10 ग्रामों के लिए बर्तन, रूअर्बन मिषन के तहत एक पिकअप वाहन, मदद योजना के तहत 13 हितग्राहियों को अनाज वितरण, 193 हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं संबंधित हितलाभ, 5 हितग्राहियां को पषुपालन विभाग की योजना के हितलाभ स्वीकृति पत्र, आजीविका मिषन के 4 समूहों को तीन-तीन लाक्ष ऋण स्वीकृति पत्र, 5 हितग्राहियों को लाडली लक्ष्मी योजना के प्रमाण पत्र, 2 किसानों को कृषि यंत्र, 5 हितग्राहियों को मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत ऋण स्वीकृति पत्र, 7 हितग्राहियों को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत डीप सहित अन्य हितलाभ हितग्राहियों को वितरित किये गए।