पटवारियों ने दी 1 अक्टूबर से आंदोलन की चेतावनी, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

अलीराजपुर, यतेन्द्रसिंह सोलंकी। मध्यप्रदेश पटवारी संघ ने अपनी मांगों को लेकर सीएम के नाम ज्ञापन सौंपा है और मांगे न मानी जाने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। इसे लेकर जिले भर के पटवारी सोमवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।

पटवारियों ने बताया गया कि जिले भर के पटवारी पिछले सालभर से अधिक समय से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि को लेकर आये दिन अधिकारियों के द्वारा की जा रही कार्रवाई से परेशान हैं। पटवारियों ने जिस काम को खुद के निजी व्यय संसाधन के माध्यम से किसानों के हित में किया, उसी कार्य के लिए अब पटवारियों के वेतन रोकने जैसी कार्रवाई की जी रही है। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का कार्य करने के लिए कम्प्यूटर अथवा लेपटॉप की आवश्यकता होती है। लेकिन उन्हें सरकार द्वारा कोई संसाधन मुहैया नहीं कराए जाते हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनांतर्गत सभी पात्र किसान जिनके दस्तावेज उपलब्ध थे, उन्हें लाभ मिल रहा है। लेकिन कई किसान खुद अपने दस्तावेज उपलब्ध नही करवा पा रहे है। इसे लेकर ग्राम कोटवार, बैठक, शिविर के माध्यम से कई बार अपील की गई मगर फिर भी कुछ विवादित खातेदार अपने दस्तावेज नहीं दे रहे हैं, जिसका दोष भी पटवारियों पर डाला जा रहा है। संघ के जिलाध्यक्ष नितेश अलावा ने कहा कि पटवारियों को हमेशा कम समय मे अधिक कार्य हेतु आदेशित किया जाता है।

मध्यप्रदेश पटवारी संघ के आह्वान पर जिला अलीराजपुर के सभी तहसील अध्यक्ष और पटवारियों ने ने एक स्वर में मांग की है कि हमें पीएम किसान सम्मान निधी से मुक्ति दिलवाई जाए और समय पर वेतन आहरण कर अन्य सुविधाएं दी जाए। ऐसा न होने की स्थिति में उन्होने 1 अक्टूबर से सामूहिक अवकाश पर जाने और आंदोलन की चेतावनी दी है।