Suspend: SP ने थाना प्रभारी और 2 आरक्षकों को किया निलंबित, ये है पूरा मामला

थाना प्रभारी मोहन डाबर (mohan dabar) और दो आरक्षक रामकुमार बाबू (ramkumar babu) और जितेंद्र पवार (jitendra pawar) को निलंबित कर दिया।

mp

अलीराजपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में आम जनता की सुरक्षा को लेकर बड़े सवाल खड़े हो रहे हैं। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि अब थाना परिसर से चीजें चोरी होने लगी है और पुलिस (police) को इसकी भनक तक नहीं लग रही। दरअसल ऐसा ही एक मामला अलीराजपुर (alirajpur) जिले से सामने आया है। जहां एसपी (SP) द्वारा एक बार फिर से थाना प्रभारी (Incharge) और आरक्षकों (Constables) पर निलंबन (suspend) की कार्रवाई की गई है।

दरअसल मामला प्रदेश के अलीराजपुर जिले के नानपुर थाना क्षेत्र का है। मामला थाना परिसर से जीप चोरी का बताया जा रहा है। इस मामले में जांच के बाद और भी तथ्य सामने आएंगे। फिलहाल प्रारंभिक जांच के बाद एसपी द्वारा थाना प्रभारी और 2 आरक्षकों को सस्पेंड किया गया। बता दें कि नानपुर पुलिस ने अक्टूबर 2020 में अवैध शराब का परिवहन करते हुए एक बोलेरो वाहन पकड़ा था।

Read More: पाकिस्तान को कोरोना वैक्सीन दिए जाने को लेकर दिग्विजय के इस ट्वीट के, आखिर क्या है मायने!

जिसे नानपुर थाना परिसर में खड़ा किया गया था। वही 10 मार्च को नानपुर थाना परिसर से जीप रहस्यमय तरीके से चोरी हो गई।   जिसके बाद इस घटना से क्षेत्र में पुलिस की काफी किरकिरी हुई। वहीं घटना की जानकारी जब एसपी विजय बागवानी को मिली तो उन्होंने इस बात पर नाराजगी जताई। इस मामले में थाना प्रभारी मोहन डाबर (mohan dabar) और दो आरक्षक रामकुमार बाबू (ramkumar babu) और जितेंद्र पवार (jitendra pawar) को निलंबित कर दिया।

पुलिस का कहना है इस मामले की जांच की जा रही है जल्दी जीत चुराने वाला पुलिस की गिरफ्त में होगा एसपी ने अवैध शराब की तस्करी के आरोपियों पर भी वाहन चोरी का संदेह जताया है हालांकि इस मामले के जांच में अभी तक कोई तथ्य सामने नहीं आए हैं।