परिवहन अधिकारी की मनमानी से गुस्साए ट्रक चालकों ने लगाया जाम, अवैध वसूली के आरोप

ट्रक चालकों का आरोप है कि परिवहन अधिकारी रात के समय अवैध चेकिंग लगाकर अवैध रूप से वसूली कर रहे हैं। वसूली का पैसा नहीं दिए जाने पर 10 हजार रुपये तक का जुर्माना वसूल करते हैं।

दमोह, आशीष कुमार जैन। मध्य प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के प्रभार वाले जिले दमोह में परिवहन अधिकारी की मनमानी का मामला सामने आया है। मनमानी इतनी कि वो रात के समय अवैध चेकिंग लगाकर अवैध रूप से ट्रक चालकों से वसूली कर रहे हैं। वसूली का पैसा नहीं दिए जाने पर 10 हजार रुपये तक का जुर्माना वसूल करते हैं। वहीं मनमानी से परेशान ट्रक चालकों के द्वारा दमोह बाईपास पर जाम लगाया गया। ट्रक चालकों ने खुलकर परिवहन अधिकारी की मनमानी पर रोष जताया है।

ये भी देखें- युवती को लिफ्ट देना पड़ा महंगा, धारदार हथियार के दम पर अवैध वसूली की कोशिश

दमोह जिला मुख्यालय पर दमोह-सागर और दमोह-जबलपुर मार्ग पर बाईपास से भारी वाहनों का आवागमन होता है। ऐसे में दमोह जिले के परिवहन अधिकारी के द्वारा यहां पर कुछ दिनों से वाहनों की चेकिंग का दौर शुरू किया गया है। अभियान में टारगेट पूरा करने के नाम पर परिवहन अधिकारी की इस कार्रवाई का यहां से हमेशा ही निकलने वाले ट्रक चालकों के द्वारा विरोध दर्ज कराया गया। विरोध ही नहीं बल्कि ट्रक चालकों के द्वारा बाईपास को जाम कर दिया गया। पूरे मार्ग पर अपने वाहनों को खड़े करके यातायात को रोक दिया गया। घंटों चले जाम के बाद ट्रक चालकों द्वारा दमोह के परिवहन अधिकारी पर अवैध वसूली के आरोप लगाए गए हैं। इन लोगों का कहना है कि आरटीओ और उनके गुर्गों के द्वारा अवैध रूप से पैसों की मांग की जा रही है। सभी कागज ठीक होने के बाद भी पैसे मांगे जाते हैं। ऐसा ना होने पर ₹10000 का जुर्माना लगाया जाता है। कुछ दिनों तक वह लोग मनमानी सहन करते रहे लेकिन अब लोगों ने विरोध शुरू कर दिया है। ट्रक चालक दमोह जिले के परिवहन अधिकारी के खिलाफ खुलकर सामने आए हैं। वहीं दमोह जिले के प्रभारी मंत्री गोविंद सिंह राजपूत मध्य प्रदेश के परिवहन मंत्री भी हैं। ऐसे में उनके जिले में परिवहन अधिकारी की मनमानी पर सवाल तो खड़े हो रहे है।