महंगे समोसे ने ली जान, युवक ने पेट्रोल डालकर खुद को जलाया

पहले 15 रुपये के दो समोसे अब 20 रुपये मे मिलने से था नाराज

अमरकंटक, डेस्क रिपोर्ट। समोसे (Samosa) की 5 रूपये बढ़ी कीमत ने एक युवक के दिल पर इस कदर चोट पहुंचाई कि उसने अपनी जान दे दी। दरअसल कुछ समय पहले ये युवक 15 रूपये में दो समोसे लेता था लेकिन कोरोना लॉकडाउन के बाद दो समोसों की कीमत बढ़कर 20 रूपये हो गई। युवक इस बात को बर्दाश्त नहीं पाया और इसी दौरान हुआ विवाद में उसने खुद की जान ले ली।

आबकारी मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में जहरीली शराब से मौतों का मामला, एसीएस गृह सहित तीन आईपीएस करेंगे जांच

समोसे की कीमत को लेकर जान देने का मामला अमरकंटक का है। मामला दरअसल कुछ ऐसा है कि अमरकंटक के बांधा इलाके में 22 जुलाई को एक युवक बजारू जायसवाल अपने दो साथियों के साथ चाय की दुकान पर पहुँचा। वहाँ उसने चाय और समोसे आर्डर किये। चाय पीने और समोसे खाने के बाद जब दुकान पर मौजूद महिला ने पैसे मांगे तो बजारु और दुकानदार महिला कंचन साहू के बीच पैसों को लेकर विवाद हो गया। दुकानदार ने दो समोसो की कीमत 20 रुपये बताई जबकि बजारू का कहना था कि कुछ दिन पहले तक वो यही दो समोसे 15 रुपये में खरीदकर खाता था। इसी बात को लेकर बजारू और दुकानदार में जमकर विवाद हो गया और बात थाने तक पहुँच गई। इसके बाद दुकानदार कंचन साहू की शिकायत पर पुलिस ने बजारू और उसके दोस्तों के खिलाफ 294, 506 व 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया।

दुकानदार के पुलिस में मामला दर्ज करवाने से नाराज बजारू अगले दिन यानी 23 जुलाई की सुबह उसी दुकान के सामने पहुँचा और उसने फिर से महंगे समोसे को लेकर दुकानदार से विवाद शुरू कर दिया। बहस के दौरान उसने कुप्पी में साथ लाये पेट्रोल को अपने ऊपर उड़ेल लिया और खुद को आग लगा ली। देखते ही देखते बजारू के शरीर ने तेज़ी से आग पकड़ ली। मौके पर मौजूद लोग अचानक उसकी इस हरकत से हैरान रह गए और उन्होंने फौरन आग बुझाने की कोशिश की मगर तब तक बजारू काफी जल चुका था। घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने पुलिस और एम्बुलेंस को सूचना दी। मौके पर पहुँची पुलिस ने बजारू को अमरकंटक स्वास्थ्य केंद्र पहुँचाया जहाँ से उसकी गंभीर हालत के चलते उसे जिला चिकित्सालय भेज दिया गया। लेकिन इलाज के दौरान बजारू ने दम तोड़ दिया। घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। गंभीर रूप से जला बजारू आखिरी सांस तक महंगे समोसे की नाराजगी चिल्ला चिल्लाकर जताता रहा। घटना के बाद पुष्पराजगढ़ एसडीओपी आशीष कुमार ने घटना की जांच के आदेश दिए है। जांच रिपोर्ट आनी अभी बाकी है, लेकिन महंगे समोसे को लेकर एक जान का यूं चले जाना बेहद अफसोसजनक है।