लॉकडाउन में कोटा राजस्थान में फंसे 47 बच्चों को वापस लाया जाएगा अशोकनगर

अशोकनगर/अलीम डायर

कोटा में पढ़ने गए अशोकनगर के 47 विद्यार्थियों को वापस लाया जाएगा, विद्यार्थियों को लाने की व्‍यवस्‍था हेतु नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी नियुक्‍त किये गए हैं। इसे लेकर कलेक्‍टर डॉ मंजू शर्मा ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार जिले के 47 विद्यार्थी जो कोटा राजस्‍थान में विभिन्‍न प्रतियोगिताओं की कोचिंग के लिए गए थे वे लॉक डाउन के कारण फंसे हुए हैं, उन्‍हें लाने के लिए बसों सहित चिकित्‍सा संबंधी सभी आवश्‍यक व्‍यवस्‍थाएं पूर्ण कर ली गई हैं।  बच्‍चों को सुरक्षित लाने के लिए तथा स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण एवं संस्‍थागत क्वारेंटाइन/होम क्वारेंटाइन किए जाने संबंधी व्‍यवस्‍था के लिए अनुविभागीय अधिकारी ईसागढ बी.बी.श्रीवास्‍तव को नोडल अधिकारी बनाया गया है तथा जिला परिवहन अधिकारी नंदलाल गामड को सहायक नोडल अधिकारी बनाया गया है।

कलेक्‍टर एवं जिला मजिस्‍ट्रेट डॉ. मंजू शर्मा द्वारा जारी आदेश अनुसार कोटा राजस्‍थान में फंसे अध्‍ययनरत विद्यार्थियों को परिवहन के माध्‍यम से वापिस लाये जाने हेतु कोटा स्‍टूडेंट्स प्‍लान के निर्देशों के अनुपालन में बी.बी.श्रीवास्‍तव अनुविभागीय अधिकारी ईसागढ कोम नोडल अधिकारी एवं नंदलाल गामड जिला परिवहन अधिकारी को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्‍त किया गया है। ये अधिकारीगण जिला अशोकनगर के समस्‍त विद्यार्थियों की समस्‍त व्‍यक्तिगत जानकारी साथ रखते हुए जिला गुना के अधिकारियों से समन्‍वय स्‍थापित करेंगे एवं विशेष बसों द्वारा कोटा राजस्‍थान से आने वाले विद्यार्थियों को चेक प्‍वाइंट धनावदा जिला गुना की सीमा से अशोकनगर लाने हेतु आवश्‍यक कार्यवाही करते हुए उक्‍त बसों को जिला अशोकनगर के लिए रवाना कराना सुनिश्चित करेगें। साथ ही उक्‍त बसों के ग्राम रातीखेडा में स्थित संस्‍थागत क्‍वारेंटीन सेंटर जिला अशोकनगर में पहुंचते ही समस्‍त विद्यार्थियों की मेडीकल टीम द्वारा स्‍क्रीनिंग एवं भोजन आदि की व्‍यवस्‍था कराना सुनिश्चित करेंगे। स्‍क्रीनिंग के दौरान पूर्ण रूप से स्‍वस्‍थ पाए गए विद्यार्थियों को घर जाने की अनुमति होगी। शेष विद्यार्थियों को क्‍वारेंटाइन सेंटर में रखा जाएगा। समस्‍त विद्यार्थियों के मोबाइल में सार्थक एप डाउनलोड कराना अनिवार्य होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here