Abhibhashak-sangh-ne-saunpa-gyapan

अशोकनगर मुंगावली अलीम डायर।

अभिभाषक संघ ने अपने पांच सूत्री मांगों को लेकर तहसील में एसडीएम को ज्ञापन सौंपा जिसमें वकीलों पर हो रहे अत्याचार जान से मारने की धमकी और वकीलों को मिलने वाली सहायता राशि एवं मुआवजे में बढ़ोतरी और अभिभाषक सुरक्षा कानून जल्द से जल्द लागू करने की बात कही गई। 

इस पर अभिभाषक संघ के अध्यक्ष शान मियां एडवोकेट ने पत्रकारों को बताया की आए दिन वकीलों को जान से मारने की धमकियां दी जा रही है कई तरीके से उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है उन पर अत्याचार किया जा रहा है जिससे वह एक भय के साए में अपना जीवन यापन कर रहे हैं वकीलों की सुरक्षा के लिए सख्त कानून बनाया जाए मृत अधिवक्ताओं के परिजनों को मिलने वाली राशि एक लाख से बड़ा से बढ़ाकर ढाई लाख की जाए गंभीर बीमारी के लिए मिलने वाली सहायता राशि 100000 से बढ़ाकर 500000 की जाए एवं स्टांप में लगने वाला टिकट ₹20 से बढ़ाकर ₹40 का किया जाए और स्टांप ₹50 से बढ़ाकर ₹100 का किया जाए।

इसी के साथ अभिभाषक संघ ने चेतावनी देते हुए कहा उनकी मांगे 15 दिवस के अंदर पूरी नहीं होती है तो  समस्त अभिभाषक संघ लोकतांत्रिक तरीके से आंदोलन करने के लिए विवश होगा।

ज्ञापन के दौरान समस्त अभिभाषक संघ मौजूद रहा।