प्रशासन की यातायात व्यवस्था फेल, 10 किमी पैदल चल कर करीला मंदिर जा रहे श्रद्धालु

administration-fail-for-maintain-temple-

अशोकनगर मुंगावली। अलीम डायर।

रंग पंचमी के दिन से शुरू होने वाला विश्व प्रसिद्ध मां जानकी करीला मेला शुरू हो चुका है और काल रात से ही श्रद्धालुओं का ताता लगा हुआ है तो वहीं ट्रेनों की कमी से सभी श्रद्धालु अपने-अपने  निजी वाहनों से मेले तक पहुंचने का प्रयास कर हैं लेकिन काफी तादाद में श्रद्धालुओं के आने से रविवार रात से ही कई बार जाम की स्थिति बन चुकी है और कई घंटो तक जाम नहीं खुल पा रहा है और श्रद्धालुओं को बहादुरपुर और बंगला चौराहे से ही पैदल चलकर करीला धाम मंदिर  तक जाना पड़ रहा है  जिससे उन्हें कई दिक्कत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है इसको देखकर तो यही कहा जा सकता है कि प्रशासन की यातायात व्यवस्था  फैल रही इसके लिए प्रशासन द्वारा कई महीनों पहले से मेले की तैयारी में कई मीटिंग बुलाई जाती रही के मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को कोई अव्यवस्था ना हो इसके बावजूद भी देश के कोने-कोने से आए  लाखों श्रद्धालुओं को तपती धूप में पैदल चल कर करीला धाम पहुंचना पड़ रहा है जिसमें महिलाएं और बच्चे को काफी दिक्कत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आज मेले का पहला दिन है अभी 2 दिन और शेष है और लाखों श्रद्धालुओं के आने की ओर संभावना है अब आगे देखना यह है श्रद्धालुओं को कितनी और दिक्कत परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है या प्रशासन इस पर कोई ठोस कदम उठाएगा।