प्रशासन ने ली ढाई वर्षीय आदिवासी बालक के लालन पोषण की जिम्‍मेदारी

295
Administration-take-responsibility-for-the-nutrition-of-two-and-a-half-year-old-tribal-child

अशोकनगर|   अशोकनगर जिले के जनपद पंचायत ईसागढ़ के आदिवासी बाहुल्‍य ग्राम डेंगा में निवासरत दिव्‍यांग आदिवासी रामबाबू की पत्नि सुखवती बाई का बीमारी के चलते निधन हो जाने पर पुत्र शिवचरन की जिम्‍मेदारी आर्थिक तंगी के कारण निभा पाना मुश्किल लग रहा था। इसी बीच यह बात कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा के संज्ञान में आई। कलेक्‍टर ने तुरंत पहल करते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग को निर्देशित किया कि शिवचरन बालक की जिम्‍मेदारी जिला प्रशासन लेगा, इस ह्रेतु ग्राम में कार्यक्रम का आयोजन किया जाए। कलेक्‍टर के निर्देशानुसार रविवार को ग्राम के आंगनवाडी केन्‍द्र में कार्यक्रम रखा गया। 

  कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा ने बताया कि बालक शिवचरन की मॉं की मृत्‍यु हो जाने पर दिव्‍यांग पिता श्री रामबाबू आदिवासी द्वारा बेहतर परवरिश न कर पाने के कारण बालक की देखभाल का जिम्‍मा जिला प्रशासन द्वारा लिया गया है। साथ ही बच्‍चे के पिता को नि:शक्‍त पेंशन दिलाई जाएगी तथा शासन, प्रशासन द्वारा हर संभव मदद दिलाई जाएगी।

बालक का किया नामकरण

कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा द्वारा कार्यक्रम के दौरान जिला प्रशासन द्वारा बालक की पढाई, चिकित्‍सा एवं अन्‍य  जिम्‍मेदारी लेने के पश्‍चात उपस्थिजनो के समक्ष शिवचरन बालक का नया नाम प्रशासन का ‘’शिवा’’ रखा गया। ग्रामीणो ने ताली बजाकर शिवा नाम का समर्थन किया।

केक कटवाया तथा गिफ्ट दिए

कलेक्‍टर डॉ. मंजू शर्मा ने इस तारीख को यादगार बनाने के लिए इस दौरान सभी के समक्ष आंगनवाडी केन्‍द्र डेंगा में शि‍वा को हारफूल पहनाकर केट कटवाया तथा गोदी में लेकर दु‍लार किया। साथ ही गिफ्ट के रूप में 05 जोडी कपडे, खिलौने, बिस्‍तर, प्रोटीन एक्‍स, चाकलेट, बिस्‍किट,स्‍वच्‍छता किट प्रदान किए। इसके पश्‍चात बालक शिवा सहित दादी एवं पिता को ससम्‍मान शासकीय वाहन द्वारा घर तक पहुंचाया गया।                

  कार्यक्रम में अपर कलेक्‍टर डॉ. अनुज रोहतगी, एसडीएम श्री नीलेश शर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री जयंत वर्मा, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी सुश्री आकांक्षा तोमर, प्रभारी परियोजना अधिकारी श्रीमती तृप्ति शर्मा, बालक शिवा की दादी श्रीमती प्रेमबाई, पिता श्री रामबाबू एवं ग्रामवासी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here