बड़ी लापरवाही: 9 तारीख से नहीं आई कोरोना की कोई रिपोर्ट

अशोकनगर| कोरोना महामारी से लड़ने के दौरान संसाधनों की कमी एवं लेटलतीफी के कारण एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। अशोकनगर जिले से भेजी गई कोरोना सैंपल की 51 लोगो की रिपोर्ट अभी भी प्राप्त नही हुई है। बीते 9 तारीख के बाद से आज तक किसी भी रिपोर्ट का परिणाम भोपाल से नहीं बताया गया । इस कारण आइसोलेशन एवं क्वॉरेंटाइन में आम लोगों के साथ डॉक्टर एवं पुलिस कर्मचारी भी फंसे हुए हैं । भोपाल से जांच ना मिलने के कारण अब जिला अस्पताल ने ग्वालियर के लिए सेम्पिल भेजना शुरू कर दिया है।

जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जे आर त्रिवेदीया ने बताया की 9 तारीख के बाद से अब तक 51 रिपोर्ट कोरोना सेम्पिल कि पेंडिंग है । इसके लिए कई बार वह भोपाल वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर चुके हैं । मगर इसके बाद भी रिपोर्ट नहीं मिल पाई। रिपोर्टों के परिणाम ना आ पाने से उन लोगों को परेशानी होने लगी है जिन्हें आइसोलेशन या कोरोनटाइन में रखा गया है। आइसोलेशन वार्ड में आम लोगों के साथ कैदी भी लंबे समय से भर्ती हैं । इसके अलावा सहराई अस्पताल के एक डॉक्टर की सैंपल की रिपोर्ट ना आने के कारण उनको भी कोरोंनटाइन किया गया है ।ऐसी स्थिति में सभी 51 लोगों के साथ बनी हुई है जो रिपोर्ट ना आने के कारण आइसोलेशन या होम क्वॉरेंटाइन में रहने को मजबूर है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एक तो भोपाल में का ज्यादा होने के कारण लेटलतीफी होने के साथ साथ अशोकनगर जिले में किसी कोई भी मरीज पॉजिटिव ना हो पाने के कारण यहां की रिपोर्ट को पेंडिग रखे होने की बात कही जा रही है।

डॉक्टर त्रिवेदीया ने बताया कि पूर्व में तो सिर्फ उन्हीं लोगों की कोरोना सेम्पिल लिए जा रहे थे जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री यह पॉजिटिव मरीज के संपर्क की हिस्ट्री रही है।मगर बीते 2 दिन से सामान्य खांसी जुखाम वाले लोगों के सैंपल भी लेना शुरू कर लिया है ।बीते 2 दिन में करीब 40 सैंपल लिए गए हैं। ऐसी स्थिति में अगर रिपोर्ट लेट होती है तो दिक्कत हो सकती है इसलिए भोपाल की जगह अब सैंपल ग्वालियर भेजना शुरू कर दिए गए।