नाबालिक लड़की को बेचने का मामला, 3 महिलाओं सहित 4 पर मामला दर्ज

अशोकनगर, हितेंद्र बुधौलिया। एक नाबालिक बच्ची की सक्रियता एवं शासन द्वारा उपलब्ध कराए गए चाइल्ड टोल फ्री नम्बर के उपयोग करने से झारखंड से लाकर अशोकनगर में बच्ची को शादी के लिये बेचे जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। बड़ी बात यह है कि इस नाबालिग बच्ची ने और भी कई बच्चियों के इसी तरह बेचे जाने की बात कही है।इसके बाद अशोकनगर जिले की बाल कल्याण समिति की पहल पर नईसराय थाने में 3 महिलाओं सहित एक व्यक्ति पर मामला दर्ज कर लिया गया है।

पूरा मामला करीब एक माह पुराना है। इस पूरे सिंडिकेट में महिलाओं की भी भागीदारी सामने आई है। शुरुआती जांच में बताया गया है कि दलालों के माध्यम से झारखंड के जमशेदपुर के गांव से दलालों ने इस बच्ची को खरीदा एवं गुना के व्यक्ति के माध्यम से अशोकनगर जिले की नई सराय थाने के पास डूंगासरा गांव के एक व्यक्ति को 95 हजार रु. में बेचा गया था, जिसके साथ उसकी शादी कराई गई। पुलिस अधीक्षक रघुवंश सिंह भदौरिया ने वन स्टॉप सेंटर में पहुंचकर बच्ची से मुलाकात की एवं आरोपियों को पकड़ने के लिए टीमें रवाना कर दी गई।

जानकारी के मुताबिक करीब 1 माह पहले चाइल्ड लाइन पर एक बालिका ने खुद को बेचे जाने एवं जबरन शादी कराने की शिकायत की थी। इसके बाद नई सराय पुलिस एवं बाल कल्याण समिति ने इस नावालिग बच्ची को वहां से सुरक्षित निकालकर वन स्टॉप सेंटर में रखा था एवं उसके बयान लिए थे। इसमें बच्ची ने खुद को बेचे जाने और शादी कराने की बात कही थी। लड़की ने अपने बयानों में और भी बच्चियों को इसी तरह बेचे जाने की शिकायत की थी।

इस दौरान बाल कल्याण समिति ने बच्ची के परिजनों से उसे वापस ले जाने की बात भी करने का प्रयास किया। मगर इस मामले में परिजनों ने कोई रुचि नहीं दिखाई। इसके बाद इस पूरे प्रकरण में नई सराय थाने में एफआईआर दर्ज करा दी गई है। इसके बाद बच्ची को बेचे जाने एवं अपहरण की धाराओं में झारखंड की तीन महिलाओं सहित एक युवक पर मामला दर्ज कर लिया गया है। साथ ही इस पूरे सिंडिकेट से जुड़े तारों को खंगालने में पुलिस जुटी हुई है।