सिंधिया के दौरे में बदलाव, अब शोक जताने नहीं जाएंगे सांसद के घर

अशोकनगर। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कोंग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया का संसोधित दौरा कार्यक्रम जारी हो गया ।इसमे सबसे खास बात यह है कि अब सिंधिया  क्षेत्रीय सांसद डॉ केपी यादव के घर नही जाएंगे।कुछ दिन पहले जनआक्रोश सभा मे सांसद  केपी यादव ने सिंधिया के उनके घर आने पर कई सवाल खड़े किये थे।माना जा रहा है कि इसी कारण सिंधिया ने अब सांसद यादव के घर जाना रद्द कर दिया।  उल्लेखनीय है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया सांसद केपी यादव के पिता स्व  रघुवीर सिंह की 4 माह पहले हुई मृत्यु पर शोक जताने सांसद यादव के घर जाने बाले थे।नए कार्यक्रम के तहत सिंधिया  आएंगे को 17 जनवरी को ही मगर उस कार्यक्रम में सांसद के घर जाना उल्लेखित नही है।नये कार्यक्रम में कुछ दूसरे नेताओं के घर जाने के कार्यक्रम जुड़ गये  है।

सांसद केपी यादव पर जाति प्रमाणपत्र के मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद सांसद ने खुले आम ज्योतिरादित्य सिंधिया के इशारे पर खुद के ऊपर मामला दर्ज होने का आरोप लगाया था।इसी राजनीतिक कड़वाहट के बीच सिंधिया के दौरा कार्यक्रम में सांसद यादव के घर शोक जताने का मसला चर्चा में था ।इसी बीच  10 जनबरी को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में सांसद केपी यादव ने सिंधिया के उनके घर आने के कार्यक्रम पर कई सवाल खड़े किये थे।सांसद ने कहा था कि मेरे पिताजी की मृत्यु चार माह  बाद शोक जताने उस समय आने का क्या औचित्य है जब उनके एवं उनके बेटे पर एफआईआर दर्ज करवाई गई है।सांसद यादव ने कहा था कि सिंधिया शोक जताने आ रहे है या  मेरे जख्मो पर नमक छिड़कने आ रहे है।माना जा रहा है सांसद यादव की इस तल्ख टिप्पणी के बाद सिंधिया ने उनके घर जाना रद्द कर दिया है।