सिंधिया का जोरदार स्वागत, 5 मंत्रियों की मौजूदगी में दुल्हन की तरह सजा शहर

अशोकनगर। हितेन्द्र बुधौलिया।
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं क्षेत्र के पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया लोकसभा चुनाव हारने के बाद पहली बार जनसंपर्क करने के लिए अशोकनगर आए। इस दौरान प्रदेश के पांच मंत्रियों की उपस्थिति में आज उनका जो स्वागत किया गया , अशोकनगर शहर के इतिहास में यह अब तक का सबसे बड़ा स्वागत समारोह माना जा रहा है ।किसी भी राजनीतिक व्यक्ति के लिए आज तक शहर को इस तरह से नही सजाया गया था ।

लोगों का मानना है ,कि इस तरह की साज-सज्जा और प्रदर्शन पहले कभी देखने को नहीं मिला। खुद सिंधिया कई बार चुनाव जीत कर आये मगर आज जैसा स्वागत पहले कभी नही हुआ। स्थानीय विधायक जजपाल सिंह जज्जी के नेतृत्व में कोंग्रेसियो ने पूरे शहर बैनर पोस्टरों एवं स्वागतद्वारो से पाट दिया था। जिन जिन इलाकों से सिंधिया निकले उन इलाकों को कोंग्रेसियो ने दुल्हन की तरह सजाया गया था ।

एचडीएफसी चौराहा से सिंधिया पैदल ही रेस्ट हाउस पहुंचे इस दौरान पूरे रास्ते मे उनका फूल बरसा कर स्वागत किया।रेस्ट हाउस में सिंधिया ने लोगों के साथ बातचीत की और उनकी समस्या सुनी, इस दौरान मप्र सरकार के 5 मंत्री तुलसी सिलावट,गोविंद राजपूत,प्रभुराम चौधरी,प्रधुम्न सिंह तोमर,महेंद्र सिंह सिसौदिया सहित मंत्री कलेक्टर एसपी सहित तमाम प्रशासनिक लाव लश्कर के जिले के तीनों विधायक जजपाल सिंह जज्जी, गोपाल सिंह चौहान एवं ब्रजेन्द्र सिंह यादव मौजूद रहे।सिंधिया के जनसंपर्क कार्यक्रम में हजारों की संख्या में लोग अपने आवेदन लेकर आए सभी लोगों का एक-एक करके सिंधिया ने आवेदन लिया एवं संबंधित लोगों से निराकरण के लिए कहा।

इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद सिंधिया ने कहा कि हम अति आत्मविश्वास में बीता चुनाव हार गए, हम सोचते रहे कि 1 वोट से क्या होता है और इसी 1-1 वोट की की वजह से परिणाम बदल गया।सिंधिया ने कहा जनता ही आम आदमी को नेता बना देती है ओर जनता ही नेता को आम आदमी बना देती है।सिंधिया ने कहा कि आज भले ही वह सांसद नहीं है, मगर इस क्षेत्र से उनका हृदय का नाता है और यहां के लोगों की सेवा के लिए वे सदैव तत्पर रहेंगे।