चुनाव का खर्चा इस्तीफा दे कर चुनाव लड़ने वालों से वसूला जाए: पीसी शर्मा

अशोकनगर पहुंचे पूर्व मंत्री ने कांग्रेस पार्टी के उपचुनाव कार्यालय का उद्घाटन किया, पत्रकार वार्ता में भी भाग लिया

ashoknagar-pc-sharma

अशोकनगर| हितेंद्र बुधोलिया| मध्य प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री एवं भोपाल विधायक पीसी शर्मा (PC Sharma) ने आज अशोकनगर (Ashoknagar) में कांग्रेस पार्टी के उपचुनाव कार्यालय का उद्घाटन किया ,इस दौरान उन्होंने पत्रकार वार्ता में भी भाग लिया। पीसी शर्मा ने कहा कि यह चुनाव बीजेपी (BJP) के द्वारा क्षेत्र की जनता पर थोपा गया है। इसलिए उनकी पार्टी ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई है कि चुनाव का खर्च उन लोगों से वसूला जाए जिनके कारण चुनाव हो रहा है। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने वोटो से बनी कांग्रेस की सरकार को नोटो से गिरा दिया । पत्रकार वार्ता में पोहारी के प्रत्याशी हरीवल्लभ शुक्ला, चंदेरी विधायक गोपाल सिंह चौहान अशोकनगर की प्रत्याशी आशा दोहरे भी उपस्थित रही।

बिलाला मिल रोड पर कांग्रेस के चुनाव कार्यालय के शुभारंभ के पहले पत्रकारों से चर्चा करते हुए पीसी शर्मा ने बताया कि कांग्रेस इस बार बिकाऊ नहीं टिकाऊ के मुद्दे पर चुनाव लड़ रही है । उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में यह चुनाव बीजेपी के द्वारा जनता पर थोपा गया है ।और जिन लोगों ने इस्तीफा दिया था वही लोग दोबारा चुनाव में है। इसलिए उनकी पार्टी ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई है कि चुनाव का खर्च उन्हीं लोगों से वसूला जाए जो इस्तीफा देकर दोबारा चुनाव लड़ रहे ।

इसके अलावा पीसी शर्मा ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने 15 महीने में कई काम किए थे किसानों का कर्जा माफ हुआ था।निवेश आना शुरू हो गया था। अंतरराष्ट्रीय विमान सेवा शुरू हो गई थी एवं माफिया राज का खात्मा हो गया था ।मगर कांग्रेस एवं कमलनाथ की सरकार को जो वोट से बनी थी भाजपा ने नोट के दम पर उसे तेरा दिया।उन्होंने कहा कि कोंग्रेस इस बार हर विधामसभा का संकल्प पत्र बना रही है।

कांग्रेस की प्रेस वार्ता में शिवराज सिंह की तुलना में ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस के निशाने पर ज्यादा रहे कई सारे नेताओं ने सीधे-सीधे सिंधिया को कटघरे में खड़ा खड़ा करते हुए उन्हें माफिया एवं पार्टी से गद्दारी करने वाला बताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here