पुरानी जेल और मैदान पर अतिक्रमण, ऐतिहासिक स्थल पर जारी अवैध गतिविधियां

मुंगावली, स्वदेश शर्मा। जहां एक ओर राजस्व विभाग द्वारा अतिक्रमण विरोधी मुहिम चलाई जा रही हैं, वहीं मीरकाबाद पंचायत में स्थित पुरानी खुली जेल बिल्डिंग व यहां बने खेल मैदान में लगातार अतिक्रमण किया जा रहा है। यहां निवास कर रहे लोगों ने कई बार अधिकारियों को लिखित आवेदन किए हैं पर आज तक किसी भी अधिकारी द्वारा इस ओर कोई गंभीरता नही दिखाई हैं जिसके चलते लगातार इस ऐतिहासिक धरोहर के साथ छेड़छाड़ व अतिक्रमण किया जा रहा है।

भवनों में अवैध निवास व तोड़फोड़
देखा जाए तो यहां खुली जेल की काफी बड़ी बिल्डिंग बनी हुई है लेकिंन यहां कई लोगों द्वारा न केवल यहां बने क्वाटरों पर अवैध कब्जा किया जा रहा है, बल्कि लगातार तोड़फोड़ भी की जा रही है। जिसको देखकर यही कहा जायेगा कि प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही के चलते आने वाले समय में यह ऐतिहासिक धरोहर का अस्तित्व ही खत्म होने की कगार पर है।

अवैध गतिविधियां संचालित
देखा जाए तो इस तरह यहां अवैध कब्जा करने वाले लोगों द्वारा न केवल ऐतिहासिक धरोहर को क्षति पहुचाई जा रही है, बल्कि अवैध शराब निर्माण के साथ साथ अन्य तरह की कई अन्य असमाजिक गतिविधियां भी संचालित हो रही है।

आखिर कब मिलेगी अतिक्रमण से मुक्ति
ऐतिहासिक धरोहर के साथ इस तरह हो रही खिलवाड़ को देखने के बाद अब सवाल यह उठता है कि आखिर प्रशासनिक अधिकारियों की नजर कब इस धरोहर की ओर जाएगी। जिससे यह धरोहर आने वाली पीढ़ियों के लिए उपलब्ध बनी रहें। इसलिए प्रशासनिक अधिकारियों को चाहिये कि एक विशेष मुहीम चलाकर इस धरोहर को पूरी तरह अतिक्रमण मुक्त कराया जाए।

इनका कहना है।
आपके द्वारा यह सूचना दी जा रही है, आने वाले समय में जल्द इस धरोहर से अतिक्रमण अतिक्रमण हटवाया जाएगा।
राहुल गुप्ता एसडीएम मुंगावली