इज्तिमाई शादियों में लगभग 200 जोड़ों ने किया निकाह कुबूल

group-marriage-held-in-ashoknagar

अशोकनगर मुंगावली। अलीम डायर। 

हर साल की तरह इस साल भी ऑल मुस्लिम महोबिया वेलफेयर सोसायटी की जानिब से इज्तिमाई शादियों का आयोजन 11 जून मंगलवार को जेल बिल्डिंग ग्राउंड पर किया गया। कमेटी के सदर अज़ीज़ खान जमीदार से मिली जानकारी के अनुसार पिछले 15 सालों से इन इज्तिमाई शादियों का आयोजन किया जा रहा है इसका असल मकसद समाज में चल रही कुरीतियों और अंधविश्वासों को खत्म करना शादियों में होने वाली फिजूलखर्ची से बचना है और  एकजुट होकर भाईचारे से  मिलजुल कर प्रोग्राम को अंजाम देना हैं इसकी तैयारियां लगभग 6 महीनेे पहले शुरू हो जाती है दूल्हा दुल्हन  का रजिस्ट्रेशन किया जाता है उनके फार्म  भरवाए जाते हैं। 

सभी तैयारियों के साथ 11:00 बजे से निकाह प्रक्रिया शुरू की गई इसके लिए 5 काउंटर बनाए गए जिन पर दूल्हा दुल्हन का निकाह करवाया निकाह के पूर्व हजरत मौलाना सैय्यद शराफत अली नदवी ने इज्तिमाई शादियों केेे मुतालिक बयान किया जिसमें इज्तिमाई शादियों की बरकत और फजीलत बयान की और कहां की है इस्लामिक शरीयत के हिसाब से यह बहुत अच्छा और सही काम है इससे अल्लाह भी राजी होता है और तमाम लोगों की दुआएं भी मिलती हैं। 

निकाह के बाद सभी जोड़ों को उनके सामान के साथ रुखसती दी गई इस दौरान जोड़ों के साथ आए मेहमानों को दावत का भी इंतजाम किया गया तेज धूप और गर्मी को देखते हुए कूलर पंखे और पान�� का भी भरपूर इंतजाम किया गया इस पूरे प्रोग्राम में ऑल मुस्लिम महोबिया वेलफेयर सोसायटी के सभी सदस्यों की खिदमत गुजारी तारीफे काबिल रही जिन्होंने इतने बड़े मजमें को संभाला और अंजाम तक पहुंचाया।