खाद की किल्लत से बढ़ा आक्रोश, किसानों ने किया चक्काजाम

-Increased-indignation-from-the-shortage-of-manure-Farmers-block-road

अशोकनगर। प्रदेश भर में खाद की समस्या के कारण किसानों में रोष पनपता ही जा रहा है। सरकारी गोदामो में खाद ना होने से किसान सड़क पर उतर आये है। अशोकनगर में किसानों ने यूरिया ना मिलने के कारण विदिशा रोड पर कलेक्टर बंगला के सामने जाम लगाया । किसानों ने यूरिया ना मिलने के कारण गाड़ियों द्वारा रोड बंद कर जाम लगाया । करीब एक सैकड़ा किसान विदिशा रोड स्थित कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा के निवास के सामने एकत्रित हुए और चक्का जाम कर दिया । किसानों ने यूरिया ना मिलने और विपणन संघ के अधिकारियों पर यूरिया की कालाबाजारी करने का आरोप लगाते हुए जाम लगाया है । 

किसानों का आरोप है कि शनिवार को खाद का स्टॉक था और सोमवार को सारे गोदाम खाली हो गए | किसानों ने आरोप लगाया की विपणन संघ प्रभारी एसएस तिवारी ने यूरिया को बाजार में बेच दिया है और वही यूरिया जो हमें सरकार द्वारा ₹272 में मिलता है वह बाजार में ₹400 में मिल रहा है। मौके पर एसडीएम नीलेश शर्मा और तहसीलदार इसरार खान ने  किसी तरह जाम खुलवाया और किसानों को लेकर विपणन संस्था पहुंचे जहां पर उन्होंने दस्तावेजों की छानबीन की और स्टॉक रजिस्टर देखा ।उसके बाद जो समितियों को यूरिया वितरण किया गया था उसकी जानकारी ली और जिन समितियों के पास अभी स्टॉक उपलब्ध था उनसे वापस लेकर किसानों को दिलवाई गई ।

बता दें कि अभी किसानों की बोवनी का समय चल रहा है और इस समय पर किसानों को यूरिया की अत्यधिक आवश्यकता रहती है और इसी का फायदा उठाकर बाजार में यूरिया ज्यादा रेट पर बेची जाती है | कृषि विभाग द्वारा  इस मामले कार्यवाही ना करना भी इस कालाबाजारी का सबसे बड़ा कारण है ।