अजब संयोग: जिस IPS को SP पद से हटाया, उसी ने अपने खाली पद पर SP पदस्थ किया

अशोकनगर| जिस आईपीएस अधिकारी को एसपी के पद से हटाया गया हो उसी के आदेश से अपने खाली पद पर किसी दूसरे आईपीएस को एसपी के काम के लिए पदस्थ किया गया है यह अजब संयोग शायद पहली बार देखने को मिल रहा है। यह हुआ है अशोकनगर के पुलिस अधीक्षक रहे पंकज कुमावत के साथ। कल 10 जनवरी को पुलिस मुख्यालय से जारी एक आदेश में गुना की 26 वीं बटालियन के कमांडेंट राजेश कुमार सिंह को अशोकनगर जिले के पुलिस अधीक्षक का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। यह आदेश सहायक पुलिस महानिरीक्षक(प्रशासन) के द्वारा जारी किया गया है।संयोग से  इस पद पर पंकज कुमावत ही  है।

जब किसी जिले के पुलिस अधीक्षक को बदला जाता है, तो अमूमन उसके साथ या कुछ समय बाद दूसरे आईपीएस की पदस्थापना कर दी जाती है। मगर अशोकनगर में 23 तारीख से पुलिस अधीक्षक का पद खाली पड़ा है। इस दौरान अशोकनगर से हटाए गए पंकज कुमावत को पुलिस मुख्यालय में सहायक पुलिस महानिरीक्षक प्रशासन का प्रभार मिला। कल जो आदेश निकला वह सहायक पुलिस महानिरीक्षक (प्रशासन )के द्वारा जारी किया गया जिसमें लिखा गया हैं कि 23 दिसम्बर को अशोकनगर पुलिस अधीक्षक पंकज कुमावत का स्थानांतरण  सहायक पुलिस महानिरीक्षक के पद पर हो गया है। खुद के खाली पद पर दूसरे अधिकारी को पदस्थ करने बाले पंकज कुमावत के साथ अजब संयोग बन गया है।

विवादित रहा sp के हटने का मामला

23 तारीख को तत्कालीन अशोकनगर पुलिस अधीक्षक पंकज कुमावत को भले ही प्रशासकीय कारण बता कर अशोकनगर से हटाकर पुलिस मुख्यालय में पदस्थ कर दिया गया था ।मगर इसके पीछे  राजनैतिक कारणो के आरोप भाजपा लगा चुकी है। दरअसल जिस दिन गुना संसदीय क्षेत्र के भाजपा विधायक सांसद डॉक्टर के पी यादव एवं उनके पुत्र पर धोखाधड़ी की एफ आई आर दर्ज हुई, उसी दिन पुलिस अधीक्षक का तबादला कर दिया गया। कल 10 तारीख को हुई जन आक्रोश रैली में  सांसद केपी यादव ने आरोप लगाया कि पुलिस अधीक्षक मेरे ऊपर मामला दर्ज नहीं करना चाह रहे थे ।इसी वजह से  सरकार ने उनको हटाया है। उल्लेखनीय है कि 23  दिसंबर से अशोकनगर जिले में पुलिस अधीक्षक का पद खाली डाला है। 10जनवरी  को  26 बटालियन गुना के कमांडेंट राजेश कुमार सिंह को  जिले का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

अजब संयोग: जिस IPS को SP पद से हटाया, उसी ने अपने खाली पद पर SP पदस्थ किया