कोरोना पर तकरार …विधायक बोले गले में ख़राश है, मंत्री ने कहा कोरोना की जांच कराओ

अशोकनगर,हितेंद्र बुधोलिया। जिला मुख्यालय में आयोजित मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना के शुभारंभ कार्यक्रम के बाद कांग्रेस के विधायक द्वारा मंच पर भाषण ना देने के मामले में उनके एवं भाजपा के मंत्री के बीच हुई जुवानी तकरार ने चुनावी माहौल में गर्मी पैदा कर दी है। चन्देरी विधायक गोपाल सिंह चौहान जब यह कहा कि गले मे ख़राश है, तो जवाब में राज्य मंत्री ब्रजेन्द्र सिंह यादव ने उन्हें कोरोना की जांच कराने की हिदायत दे डाली।

दरअसल, बुधवार को जिला प्रशासन द्वारा मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना के तहत अन्न उत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान जब भाषण देने के लिए चंदेरी विधायक गोपाल सिंह चौहान को माइक दिया गया तो उन्होंने भाषण नहीं दिए। जब कार्यक्रम समाप्त होने के बाद वे बाहर निकले और उनसे पत्रकारों ने भाषण न देने का कारण पूछा गया तो चंदेरी विधायक ने कहा कि मेरे गले मे ख़राश है, मैंने इसलिए भाषण नहीं दिए। साथ ही यह भी कहा कि यह आयोजन शासकीय है इसमे कांग्रेस की आलोचना की जा रही थी।

विधायक के इस जवाब पर मप्र सरकार के राज्य मंत्री ब्रजेन्द्र यादव ने उनको नसीहत देते हुए कह डाला कि अगर उनके गले मे ख़राश है तो वे इलाज कराएं ओर कोरोना की जांच कराएं। साथ ही यह भी कहा कि चंदेरी विधायक को राजनैतिक आयोजनो में भाषण देने में कोई दिक्कत नहीं होती। लेकिन जनता के इस आयोजन में बोलने में गले मे ख़राश होने लगी। उल्लेखनीय है राज्यमंत्री हाल ही में कोरोना से मुक्त हुए है।जबकि पूर्व विधायक जजपाल सिह जज्जी भी कोरोना संक्रमित हो चुके है। ऐसे में जिले एक मात्र विधायक गोपाल सिंह चौहान को गले मे खराश की शिकायत होने एवं उसकी तकलीफ के कारण भाषण ना देने पाने पर राज्यमंत्री की चिंता भी जायज है, क्योंकि वह हाल ही में करीब 12 दिन तक कोरोना संक्रमण के कारण अस्पताल में बिता कर आये है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here