घर लौट रहे मजदूरों के लिये मेडिकल चेकअप की व्यवस्था नहीं, चेकपोस्ट पर पुलिस कर रही सहायता

अशोकनगर मुंगावली। अलीम डायर।

बाहर से काम करने आए क्षेत्र में मजदूर लाॅकडाउन के दौरान कई जगहों पर फस गए हैं ऐसे में जब लाॅकडाउन के दौरान ट्रेनें और बसें सभी बंद है तो मजबूरन यह मजदूर पैदल ही अपने घरों की ओर चल दिए। इसी दौरान नगर में एवं नगर की सीमाओं पर बने चेक पोस्ट पर पुलिस कर्मियों समाजसेवियों द्वारा पैदल जा रहे मजदूरों की भरपूर सहायता की जा रही है इन्हें खाने पीने की व्यवस्था की जा रही है तो वही दूसरे जिलों की सीमाओं में छोड़ने के लिए वाहनों की भी व्यवस्था भी की जा रही है।

यहां तक तो ठीक है वहीं दूसरी ओर प्रशासन की एक कमी भी देखी जा रही है वह यह कि जिस कोरोना वायरस से बचने के लिए संपूर्ण भारतवर्ष को 21 दिन के लिए लॉकडाउन किया गया है हर कहीं जगह-जगह एक एक व्यक्ति का मेडिकल चेकअप किया जा रहा है। लेकिन यहां मुंगावली सीमा से सटे सेमर खेड़ी चेक पोस्ट पर लोगों के चेक करने के लिए कोई मेडिकल व्यवस्था नहीं है ना ही कोई मेडिसन सुविधा उपलब्ध है और ना ही कोई थर्मामीटर है जिससे नगर की सीमा में आने जाने वाले लोगों को चेक किया जा सके। इसके अभाव में यदि इस दौरान कोई संक्रमित व्यक्ति क्षेत्र में प्रवेश कर जाता है तो वह संपूर्ण क्षेत्र के लिए खतरा उत्पन्न कर सकता है। यह प्रशासन की एक बहुत बड़ी चूक है अगर जल्द ही प्रशासन ने इसको संज्ञान में लेते हुए अमल नहीं किया तो कोई भी संक्रमित व्यक्ति नगर में प्रवेश कर सकता है जिसका परिणाम संपूर्ण क्षेत्र वासियों को भुगतना पड़ सकता है।