नपा ने दस में से एक मांग को नहीं माना तो अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए सफाईकर्मी

Not-one-of-the-ten-demands-of-the-cleaner

अशोकनगर/मुंगावली। अलीम डायर। 

नगर के सफाई कर्मियों ने परिषद एवं क्षेत्र के अधिकारियों को कुछ दिन पहले आवेदन देकर अपनी 10 सूत्रीय मांगों के बारे में अवगत कराया था। मांगे पूरी न होने पर हड़ताल की भी चेतावनी दी थी। जिस पर सफाई कर्मी आज सुबह से हड़ताल पर भी बैठे। यह अपनी 10 सूत्री मांगों को लेकर हड़ताल पर बैठे इनकी निम्न मांगों में सफाई कर्मियों को ऑफिस में बैठने, छाया कुर्सी, एवं पानी की व्यवस्था की जाए। समान सीमा में सफाई करवाई जाए कलेक्टर द्वारा देय राशि बढ़ाई जाए, कचरा गाड़ियों पर सभी कर्मचारी बाल्मीकि समाज के हों आदि। 

जिसमें 9 मांगों को नगर परिषद ने मान लिया है एकमात्र जो वह कर रहे हैं कि 25 कर्मचारी तत्काल से नौकरी पर रखे जाएं। इस संबंध में नगर परिषद  मुख्य कार्यपालन अधिकारी से बात की गई तो सीएमओ विनोद उन्नीतान ने यह कहा कि यह मेरे हाथ में नहीं है, जिसके ऊपर से आदेश आते हैं उसी को नौकरी पर रखा जाता है। अगर इस मांग को लेकर यह लोग हड़ताल पर जाते हैं तो यह जायज नहीं है स्वच्छता अभियान के तहत के लोगों पर कार्रवाई भी की जा सकती है।

जिस से असंतुष्ट होकर सभी सफाई कर्मचारी फिर से हड़ताल पर बैठ गए हैं, उनका कहना है कि हमारी मांग पूरी ना होने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे रहेंगे। इस संबंध में जब मीडिया द्वारा नगर उपाध्यक्ष से पूछा गया  कि हड़ताल के दौरान नगर में जो गंदगी होगी वह कोन साफ करेगा इस पर नगर के उपाध्यक्ष जलील खान जमीदार ने मीडिया को बताया कि हम शाम तक इंतजार करते हैं अगर सफाई कर्मियों की हड़ताल समाप्त नहीं होती है तो वह स्वयं और उनके समस्त वार्डों के पार्षद अपने-अपने वार्डों में सफाई के लिए निकल पड़ेंगे जिसके लिए वह कचरा गाड़ी भी चलाएंगे और हो सका तो झाड़ू भी लगाएंगे पर नगर को गन्दा नहीं होने देंगे और उन्होंने नगर वासियों से अपील भी की कि वह इस दौरान कचरे को रोड पर ना फेंके कचरा डस्टबिन में ही डालें।