अशोकनगर, हितेंद्र बुधौलिया। चन्देरी पुलिस ने एक ऐसे आरोपी को गिरफ्तार किया है जो सोशल मीडिया पर फर्जी आईडी बना कर लड़कियों को अश्लील मैसेज एवं वीडियो भेजता था। साइबर अपराध में लिप्त आरोपी अनुज प्रताप सिंह ने कई नामों से अपने मोबाइल पर फर्जी आईडी बनाई थी। अपनी पोस्ट को लाइक ना करने एवं ब्लॉक कर देने वालों के नाम से ये सिरफिरा महिलाओं को परेशान किया करता था।

चंदेरी थाना प्रभारी उपेंद्र भाटी ने बताया कि कुछ दिन पहले 100 डायल पर एक शिकायत आई थी, जिसपर थाना चंदेरी में एक नाबालिग लड़की ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि किसी व्यक्ति द्वारा उसे फर्जी आईडी से गंदे एवं अश्लील वीडियो मैसेज भेजे जा रहे हैं। थाना प्रभारी ने इस मामले को गंभीरता से लेकर साइबर सेल यूनिवर्सल रिसोर्स लोकेटर (यूआरएल)की मदद से इस मामले को तकनीकी जांच में लिया तो आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ गया। आरोपी की पहचान अनुज प्रताप सिंह पवार (उम्र 24) के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक आरोपी पीड़ित लड़की को पिछले 15-20 दिन से मोबाइल फोन से मैसेज भेजकर परेशान कर रहा था। जांच में पाया गया कि यह व्यक्ति कई फर्जी नाम से सोशल मीडिया पर फेक आईडी बनाकर लड़कियों को परेशान कर रहा था। चन्देरी टीआई उपेंद्र भाटी ने बताया कि आरोपी बीसीए कम्प्यूटर का छात्र है और उसपर धारा 354 (डी) 509भा.द.वि.67(ए) आईटी एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।

आरोपी अनुज की मानसिकता उस समय उजागर हुई जब उसने थाना प्रभारी उपेंद्र भाटी को अपने द्वारा फर्जी फेक आईडी बनाने का कारण बताया। उसने बताया कि किसी लड़की द्वारा बातचीत ना करने, उसे पसंद ना करने तथा संपर्क समाप्त करने पर वह उन्हीं लड़कियों के नाम से फर्जी आईडी बना लेता था और अश्लील एवं गंदे मैसेज वीडियो फोटो भेजता था। उसने बताया कि अभी तक उसने स्वयं के नाम अनुज ठाकुर के अलावा अन्य पांच लड़कों और लड़कियों के नाम से इंस्टाग्राम पर फेक आईडी बनाई है। इन्हीं के जरिये वो लड़कियों को सोशल मीडिया के माध्यम फेसबुक मैसेंजर व्हाट्सएप से अश्लील फोटो तथा गंदे वीडियो भेजता रहता था।