महज 3 घण्टे में बदला कॉलेज के प्राध्यापको का आदेश

Orders-of-college-professors-changed-in-just-3-hours

 अशोकनगर |नेहरू डिग्री कॉलेज के तीन वरिष्ठ प्राध्यापकों के दूसरे कॉलेजो में तैनात करने के आदेश को अशोकनगर विधायक जजपाल सिंह जज्जी के विरोध के बाद महज तीन घण्टे में बदलना पड़ा।  उच्च शिक्षा विभाग ने  अशोक शर्मा, पी के सुराणा एवं एस के तिवारी  का आज  जिले के पिपरई ,शाडोरा एवं सहराई  कॉलेज  में  डिप्लॉयमेंट के आदेश जारी कर दिये गये थे। आदेश जारी होते हो विधायक श्री जज्जी सीधे उच्चशिक्षा मंत्री जीतू पटवारी से मिले एवं इस आदेश  का विरोध कर डाला।विधायक के आक्रामक तेवरों को देखते हुये आनन फानन में तीनों के आदेश को निरस्त कर दिया गया।

विधायक श्री जज्जी ने उच्च शिक्षा मंत्री को बताया कि अशोकनगर नेहरू कॉलेज पहले से ही स्टाफ की कमी से जूझ  रहा है।इस कॉलेज से कुछ दिन पहले भी 3 प्राध्यापक दूसरे जिलों में जा चुके है,स्टाफ  बढ़ाने की जगह प्राध्यापकों के  यहां से दूसरे स्थानों पर भेजा आपत्तिजनक है जबकि जिले के उन नये  कॉलेजों में पहले से लोग मौजूद है। विधायक श्री जज्जी ने बताया कि कॉलेज की में इस समय नेक की टीम के निरीक्षण पूर्व की तैयारियां चल रही है।नेक की मान्यता कॉलेज के लिये बहुत बड़ी जरूरत है।ऐसे समय मे अगर ये तीनो लोग यहां से चले जाते तो बड़ी दिक्कत होती। उच्च शिक्षा मंत्री ने विधायक श्री जज्जी की बातों को ना केवल गंभीरता से लिया बल्कि तीन घण्टे के भीतर ही  आदेश को  निरस्त कर दिया। विधायक के भोपाल से अशोकनगर आने से पहले संशोधन आदेश कॉलेज पहुँच चुका है।