जेल में बन्द पंचायत सचिव की मौत, परिजनों में आक्रोश

panchayat-secretary-death-in-jail

अशोकनगर| जिला जेल में 420 के मामले में तीन माह से बंद नगेश्री ग्राम पंचायत सचिव  शिवनन्दन सिंह यादव की आज सुबह हृदयगति रुक जाने से जिलाचिकित्सालय में उपचार के दौरान मौत हो गई । इस घटना के बाद मृतक के परिजनो में आक्रोश है । घटना रविवार सुबह की है। विगत तीन माह से ग्राम रावसर निवासी शिवनंदन सिंह यादव जो ग्राम पंचायत नगेश्री के सचिव है वह मस्टर से छेड़खानी के मामले 420 के तहत जिला जेल में बंद थे। 

रविवार की सुबह अचानक उनका स्वास्थ्य खराब होने पर जेल के कर्मचारीयो द्वारा उन्हे जिलाचिकित्सालय में उपचार के लिए लाया गया यहाॅ डाक्टर डीके भार्गव ने उनका उपचार किया और अचानक उनकी मौत हो गई । डाक्टर के अनुसार सचिव की ह्दय गति रुक जाने से हुई है। वही शिवनंदन की अचानक मौत के मामले में परिवार के सदस्य अपने अलग अलग तर्क दे रहे है। उनका कहना है कि दो दिन पूर्व परिवार के सदस्य वह शिवनंदन की बहिन भाईदूज पर जेल में तिलक लगाने गई थी जब वह पूरी तरह स्वस्थ था  । तथा उसे कोई भी बीमारी नही थी। वही जिला जेल अधीक्षक  श्री सिद्धकी जी कहना है कि जेल में बंद कैदी  शिवनंदन का अचानक स्वास्थ्य खराब होने पर उन्हे सुबह 8:45 पर जिलाचिकित्सालय में लाया गया था। और डाक्टर ने उनका उपचार किया था। वही एसडीओपी गुरु वचन सिंह का इस मामले मे कहना है कि तीन माह से जिला जेल में बंद कैदी को गंभीर हालत में जिला चिकित्सालय में लाया गया जहाॅ उसकी मौत हो गई घटना की सूचना पर न्यायाधीश वर्ग 2 अंकित श्रीवास्तव ने जिलाचिकित्सालय पहुंचकर संपूर्ण मामले को देखा व डाक्टरों के पैनल द्वारा शर्व का पीएम कराया जा रहा है । वही दूसरी तरफ सचिव महासंघ के जिला उपाध्य्क्ष शिवराज सिंह रघुवंशी ने एसडीएम नीलेश शर्मा को ज्ञापन सौंपकर मृतक सचिव के परिवार के किसी भी सदस्य को अनुकम्पा नियुक्ति दिलाने की मांग की है ।