अशोकनगर|बीते दिनों ईसागढ़ थाना क्षेत्र में पातखेड़ा  के पास मिली युवक की लाश के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा शनिवार को कर दिया। पुलिस के मुताबिक मृतक आरोपी की बेटियों से छेड़छाड़ करता था एवं कई बार समझाने के बाद भी नहीं मानने पर आरोपी ने कुल्हाड़ी से वारदात को अंजाम दिया।

2 जनवरी को मुनेश पुत्र हरिलाल ढीमर निवासी नीमखेड़ा ने सूचना दी थी कि मेरे भाई कल्ला उर्फ सुनील का शव ग्राम नीमखेड़ा व पाटखेड़ा के बीच पड़ा हुआ है जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की गर्दन पर चोटों के निशान देखकर प्रथम दृष्टया मामला हत्या का माना और अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ धारा 302 के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया। शनिवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सभाकक्ष में प्रेसवार्ता आयोजित कर एडिशनल एसपी सुनील शिवहरे ने बताया कि मृतक के मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल, साइबर सेल से प्राप्त कर उसके आधार पर आरोपी जहार सिंह आदिवासी पुत्र नत्थू आदिवासी को गिरफ्तार किया। जिसके बाद पूछताछ की तो उसने बताया कि मृतक सुनील मेरी लड़कियों को परेशान करता था, मैंने पूर्व में उसे कई बार समझाया था लेकिन वह नहीं माना। बताया गया कि इसी से तंग आकर मैंने पीछे से सुनील की गर्दन पर वार कर उसकी हत्या कर दी।

कत्ल का खुलासा करने में ईसागढ़ टीआई दीपक यादव, उप निरीक्षक फैमिदा खान, भोजराम भगत,एवं सायबर सैल प्रभारी संजय गुप्ता व दीपक राजपूत की अहम भूमिका रही।