सिंधिया का तंज-13 साल शिवराज जी का इंतजार करता रहा, वे नहीं आए, सत्ता जाते ही दौरे कर रहे

1906
scindia-attack-on-shivraj-for-ashoknagar-visit-after-lose-assembly-election

भोपाल।

लोकसभा चुनाव जैसे जैसे नजदीक आते जा रहे है वैसे वैसे सियासी पारा भी चढ़ता जा रहा है। नेताओं में बयानबाजी का दौर भी तेजी से चल रहा है। अब सत्ता जाने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज के अशोकनगर जाने पर गुना सांसद और पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तंज कसा है। सिंधिया ने कहा है कि वे 13 साल खुद माला लेकर शिवराज सिंह चौहान का इंतजार करते रहे लेकिन वे कई बार आमंत्रण देने के बाद भी नहीं आए, बल्कि हमेशा अन्य जगहों से होकर निकल गए, लेकिन चुनाव आते ही वह अशोकनगर का दौरा कर रहे हैं।

दरअसल, यूपी के साथ साथ सिंधिया का फोकस मप्र पर भी बना हुआ है।वे मध्यप्रदेश में भी तबाड़तोड़ दौरे कर रहे है और जनता से सीधा रुबरु हो रहे है। हालांकि उनका पूरा फोकस गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र पर बना हुआ है। इसी के चलते वे मंगलवार को अशोकनगर में पोलिंग एजेंटों के सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे। यहां उन्होंने पहले लोगों से मुलाकात की और फिर शिवराज के अशोकनगर दौरे पर जमकर हमला बोला।सिंधिया ने शिवराज पर तंज कसते हुए कहा कि शिवराज सिंह पिछले 13 सालों से अशोकनगर नहीं आये, लेकिन चुनाव आते ही वह अशोकनगर का दौरा कर रहे हैं। 13 साल खुद माला लेकर शिवराज सिंह चौहान का इंतजार करते रहे लेकिन वे कई बार आमंत्रण देने के बाद भी नहीं आए, बल्कि हमेशा अन्य जगहों से होकर निकल गए।अब जब जनता ने उनका बोरिया बिस्तर बांध दिया तो कहते हैं कि देर से आए लेकिन दुरुस्त आए।

गुना रिकॉर्ड तोड़ मतो से जीतना

इस दौरान सिंधिया ने पोलिंग एजेंटों से कमर कसने के लिए कहते हुए बोले- इस बार गुना-शिवपुरी में नया कीर्तिमान स्थापित करना है।गुना लोकसभा का चुनाव आपको लड़ना है और रिकॉर्ड तोड़ मतों से जीतना है। 2019 की लड़ाई हम आप सबके दम पर लड़ेंगे जीतेंगे।जिस प्रकार आपने मप्र से भाजपा की सरकार को बोरिया बिस्तर बांधकर रवाना कर दिया,इस बार केंद्र सरकार को हम सबको मिलकर दिल्ली से रवाना करना होगा।

आंख में धूल झोंकने वाली शिवराज-मोदी की जोड़ी

वही उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जोड़ी को लोगों के आंखों में धूल झोंकने वाली जोड़ी बताया। किसानों के कर्जमाफी पर सिंधिया ने कहा कि जिस किसान का कर्ज रह गया है वे उसे माफ कराएंगे। एक दिन पहले सड़क हादसे में मृत लोगों के परिजनों को सांत्वना देने सांसद सिंधिया उनके निवास पर भी पहुंचे। साथ ही पीएम मोदी और शिवराज को नौटंकी मास्टर भी कहा ।सिंधिया ने कहा कि एक नौटंकी मास्टर यहां हैं तो दूसरे नौटंकी मास्टर साहब वहां हैं। एक की बोरियां बिस्तर तो आपने बांध दी अब बारी दूसरे नौटंकी मास्टर की है। उनका बोरिया बिस्तर बांधकर अब रवाना करने का समय आ गया है। 

बता दे कि प्रदेश के मुख्यमंत्री रहते 13 साल के कार्यकाल में कभी अशोकनगर शहर में ना आने वाले पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान गुरूवार को विजय संकल्प सभा में शामिल होने अशोकनगर पहुंचे थे। कुर्सी से हटने के डर से अभी तक वे अशोकनगर आने से बचते रहे।


अशोकनगर से जुड़ा है मिथक, जो आया चली गई कुर्सी 

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करीब 16 साल बाद गुरुवार को आशोकनगर आये।  इससे पहले शिवराज सिंह चौहान 2003 में आशोकनगर आए थे। तब वे पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष होने के साथ ही विदिशा से सांसद थे। करीब 13 वर्ष तक मध्यप्रदेश की सत्ता की मुखिया रहे शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री रहते हुए एक भी बार अशोकनगर नहीं आए। लोगों का मानना है कि अशोकनगर को लेकर चर्चित मिथक इसका कारण रहा है। अशोकनगर के बारे में यह कहा जाता है कि यहां जो भी मुख्यमंत्री आता है वह मुख्यमंत्री की गद्दी पर नहीं रहता। जिसके बारे में प्रकाशचंद सेठी, अर्जुन सिंह, श्यामाचरण शुक्ल, सुंदरलाल पटवा, मोतीलाल बोरा आदि के नाम गिनाए जाते हैं। यह सभी मुख्यमंत्री अशोकनगर में आ चुके हैं और यहां से आने के बाद उन्हें अपनी गद्दी से हटना पड़ा है। 15 साल के भाजपा सरकार के शासन में शिवराज सिंह चौहान से पहले उमा भारती और बाबूलाल गौर भी मुख्यमंत्री रहे लेकिन वह भी अशोकनगर आने से तौबा करते रहे। हालाँकि अशोकनगर नहीं आना भी शिवराज की कुर्सी नहीं बचा पाया, और इस बार सत्ता ही चली गई ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here