अशोकनगर/हितेंद्र बुधौलिया

कमलनाथ सरकार (kamalnath government) को गिराने में जिन 22 विधायकों (22 mla) ने भूमिका निभाई थी उनको लेकर अभी तक कयास लगाए जा रहे थे कि टिकिट (ticket) उन्हीं को मिलेंगे। अब इसकी विधिवत घोषणा भी सीएम शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chauhan) ने कर दी है। उन्होने कहा है कि टिकिट तो उन्हीं को मिलेगा जो कांग्रेस से बीजेपी में आए हैं।

अशोकनगर जिले (ashoknagar) के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के भाजपा में शामिल होने के दौरान खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj) ने प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा (vd sharma) की मौजूदगी मै खुले तौर पर घोषणा की कि पार्टी टिकिट तो उन्हीं को देगी जिन्होंने त्याग किया है। इस तरह कांग्रेस से भाजपा में आये पूर्व विधायकों के टिकिट कटने एवं पार्टी के लोगों को टिकिट मिलने की खबरों को विराम लग गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अशोकनगर के पूर्व विधायक जजपाल सिंह जज्जी के समर्थन में कांग्रेस (congress) से भाजपा (bjp) में आये कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुये यह बात कही।

मंगलवार को भोपाल में बीजेपी प्रदेश कार्यालय में अशोकनगर जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भाजपा में शामिल कराए जाने के दौरान मुख्यमंत्री शिवराम सिंह चौहान ने मंच से यह घोषणा की कि पार्टी ने तय किया है कि आगामी उप चुनाव में टिकट उन्हीं लोगों को दिया जाएगा जिन्होंने त्याग किया है, मतलब जो कांग्रेस से बीजेपी में आए हैं। उन्होंने कहा कि अब हमारा फर्ज बनता है कि उन्हें टिकिट दें। इसी के साथ उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर हमला बोलते हुए का कि हम पीठ में छुरा नहीं घोंपते, धोखा नहीं देते। मुख्यमंत्री ने बैठक में मौजूद कार्यकर्ताओं से कहा कि वह किसी को बीच में नहीं छोड़ेंगे। जिन्होंने विकास के लिए कांग्रेस की सरकार को हटाने में भूमिका निभाई है, हम सब उनके साथ में हैं और यह चुनाव अकेले जज्जी का चुनाव नहीं होगा, सब मिलकर इस चुनाव को लड़ेंगे और जीतेंगे।