कांग्रेस विधायक के घर और ऑफिस पर हमला, सज्जन सिंह ने बताया भाजपा की साजिश

विदिशा। मध्य प्रदेश की सियायत में मचा कोहराम थमने का नाम नही ले रहा है। कांग्रेन नेता जीतू पटवारी के विवादित बयान का मामला अभी पूरी तरह से शांत भी नहीं हुआ था कि विदिशा से कांग्रेस विधायक शशांक भार्गव ने केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर विवादित टिप्पणी कर मामले को ओर हवा दे दी। गुरुवार देर शाम को विदिशा में भाजपा नगर पालिका अध्यक्ष मुकेश टंडन के साथ कार्यकर्ताओं ने शशांक भार्गव के खिलाफ मामला दर्ज कराने कोतवाली थाने पहुंच गए। इसके बाद भाजपा कार्यकताओं ने कांग्रेस विधायक के घर और फैक्ट्री पहुंच कर हंगामा किया और जमकर तोडफ़ोड़ की। इस घटना के बाद विधायक के निवास और ऑफिस के बाहर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

विधायक के अनुसार हंगामा कर रहे लोगों ने ऑफिस के बाहर खड़े दो वाहनों के कांच फोड़ दिए और किसी ने फायर भी किया था। इस तोडफ़ोड़ को लेकर भाजपा नेता और कांग्रेस विधायक एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं। फैक्ट्री पर हंगामे की जानकारी मिलते ही एसपी विनायक वर्मा सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे।

भाजपाई ध्यान रखें समय जाते देर नहीं लगती
विदिशा विधायक शशांक भार्गव के ऑफिस और घर के बाहर हुए हंगामे पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भाजपा के गुंडाराज की शुरुआत बताया है। उन्होंने कहा है कि विदिशा के लोकप्रिय विधायक शशांक भार्गव पर जानलेवा हमला एक सोची समझी साजिश का हिस्सा है। भाजपा, कांग्रेस के हर कार्यकर्ता का दमन करना चाहती है और गुंडाराज स्थापित करना चाहती है। पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने इस हमले की निंदा करते हुये इसे शिवराज की हताशा बताया और कहा कि शिवराज के नजदीकी लोग आतंक का वातावरण बनाना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस निर्भय होकर इसका जबाब देगी। उन्होंने कहा कि गुंडागर्दी करते समय भाजपाई यह न भूलें कि यह आउटसोर्स सरकार है और समय जाते देर नहीं लगती। बबूल के पेड़ पर आम नहीं लगेंगे, कांटे बो रहे हो तो काटे ही फलेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here