मांस खाने 121 पल्म तोते का शिकार, 3 आरोपी गिरफ्तार

बालघाट। सुनील कोरे| वन परिक्षेत्र पश्चिम  बैहर सामान्य अंतर्गत बोदालझोला बीट में शुक्रवार सुबह वन गश्ती के दौरान 118 पल्म तोतों को जाल बिछाकर शिकार कर उनका मांस खाने के उद्देश्य से पीट पीटकर निर्मम हत्या करने के मामले में वन विभाग की टीम ने तीन आरोपियों को पकड़ने में बड़ी सफलता प्राप्त की है ।

उल्लेखनीय है कि वन परिक्षेत्र पश्चिम बैहर सामान्य अंतर्गत बोदालझोला बीट के कक्ष क्रमांक 1420 में शुक्रवार की सुबह वन गश्ती के दौरान परसवाङा वृत के वन चौकी स्टाफ द्वारा तीन व्यक्ति देखे गये, जो कि सन्देहास्पद नजर आए, जिन्हें वन विभाग की टीम द्वारा घेराबंदी की गई जिसमें एक आरोपी पकड़ में आया बाकी दो किसी तरह चकमा देकर घटनास्थल से भागने में कामयाब रहे, हालांकि कुछ ही घण्टो बाद वन अमले द्वारा दबिश देकर उन्हें उनके गृह ग्राम से धर दबोचा गया| वही पतासाजी के दौरान तीनो आरोपियों ने बताया कि उनके द्वारा जाल बिछाकर जंगली तोतों को मारा गया था|

वन विभाग की टीम का कहना है कि मारे गए तोतो की संख्या 118 मृत तथा 3 जीवित तोते पकड़े गए| पकड़े गये तीन आरोपीयो मे दो आरोपी मौके से फरार हो गए थे जिन्हें शुक्रवार को ही पकड़कर वन चौकी खपड़िया लाया गया। वन विभाग की टीम ने बताया की बोदालझोला बीट की 1420 लाईन के अन्दर तीन लोग संदीप पिता गणेश जाति मरार, संतोष पिता ईन्दरलाल एवं ईश्वर पिता नन्थूलाल मरार साकिन कनई, परसवाड़ा निवासी के द्वारा जाल बिछाया गया था, और 118 तोतो का शिकार किया गया था।

गौरतलब हो कि आरोपियो के द्वारा जाल मे फँसाकर सभी 118 तोतो को डन्डे से पीट पीट कर निर्ममता के साथ मार डाला गया तथा प्लास्टिक की बोरी मे भर लिये गये थे , पूछताछ के द्वौरान आरोपियो द्वारा बताया गया कि मांस खाने के उद्देश्य से वन्य पक्षियों का शिकार कर मारा गया है। तीनो अपराधियों को वन्यप्राणी (संरक्षण) अधिनियम,1972 की धारा 2(16),9, 39,51 व 52 के तहत हिरासत मे लिया गया है ! हिरासत मे लिये गये तीनों आरोपियों को वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम के तहत कार्यवाही करते हुए शनिवार माननीय न्यायालय बैहर में पेश किया जाएगा !