गुटखा थूकते पकड़ाया पटवारी, एक हजार का जुर्माना, वेतन भी कटेगा

बालाघाट| कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने सार्वजनिक जगहों पर थूकने (Spitting) पर पाबन्दी लगाई है| साथ ही लोगों से अपील की है कि यहां वहां न थूके| लेकिन सरकार के इस सन्देश को सरकारी कर्मचारी ही नहीं मान रहे| मामला बालाघाट (Balaghat) से है जहां सार्वजनिक स्थल पर गुटखा खाकर थूकना एक पटवारी (Patwari) को महंगा पड़ गया| पटवारी पर एक हजार का जुर्माना लगाया गया, साथ ही दो दिन की वेतन कटौती के आदेश किरनापुर एसडीएम आयुषी जैन ने दिए|

दरअसल, किरनापुर के पटवारी राजुकमार लिल्हारे को सार्वजनिक स्थल पर गुटखा खाकर थूकना मंहगा पड़ गया है। बुधवार को किरनापुर एसडीएम आयुषी जैन क्वेरंटाईन सेंटर के निरीक्षण के लिए अन्य अधिकारियों के साथ पहुंची थी। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पटवारी को गुटखा खाने के बाद थूकते हुए देख लिया।

पटवारी को इस तरह सार्वजनिक स्थल पर थूकने के लिए एसडीएम ने जमकर फटकार लगाई। इसके बाद उन्होंने पटवारी राजुकमार लिल्हारे पर सार्वजनिक स्थल पर थूक कर गंदगी फैलाने के लिए एक हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया| इतना ही नहीं एसडीएम ने पटवारी को दो दिनों का वेतन काट कर उस राशि को मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराने के आदेश भी दिया है|