जबलपुर लोकायुक्त की बालाघाट में कार्रवाई- करोड़पति निकला सहायक समिति प्रबंधक

बालाघाट, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर लोकायुक्त टीम की छापामारी में बालाघाट के बिरसा के आदिम जाति सेवा सहकारी समिति का प्रभारी प्रबंधक आय से अधिक की संपत्ति रखने वाला करोड़पति निकला। मंगलवार सुबह हुई इस कार्रवाई में अब तक एक करोड़ 41 लाख रूपये की संपत्ति प्रथम जांच में मिली है। बताया जा रहा है कि लोकायुक्त जबलपुर को शिकायत मिली थी कि आदिम जाति सेवा सहकारी समिति का प्रभारी प्रबंधक संतोष भगत के पास आय से अधिक संपत्ति है, जिसेक बाद जबलपुर लोकायुक्त टीम ने जबलपुर डीएसपी जेपी वर्मा के नेतृत्व में मंगलवार सुबह 5 बजे संतोष भगत के घर छापा मारा। छापे में संपत्ति के खुलासे ने लोकायुक्त टीम को भी हैरान कर दिया।

यह भी पढ़ें… मध्यप्रदेश की सरकारी यूनिवर्सिटी में कृषि, नर्सिंग, पैरामेडिकल कोर्स होंगे शुरू

ग्राम करौंदा बहेरा निवासी संतोष पिता देवीलाल भगत आदिम जाति सेवा सहकारी समिति बिरसा में एक साल से प्रभारी प्रबंधक के पद पर पदस्थ है। इसके पूर्व राशन दुकान में सेल्समैन के पद पर पदस्थ रहा है, संतोष की शिकायत जबलपुर लोकायुक्त में पहुंची थी जिसके बाद लोकायुक्त ने जब प्राथमिक तौर पर जानकारी जुटाई तो गड़बड़ी के सबूत मिले, लोकायुक्त जबलपुर की टीम गठित की गई और मंगलवार सुबह कार्रवाई की गई जिसमें   इसमें एक करोड़ 41 लाख की संपत्ति उजागर हुई है। जबलपुर लोकायुक्त की कार्रवाई में संतोष भगत के पास से ग्राम करौंदा में एक मकान, बिरसा में दो मकान और बालाघाट में एक मकान होना पाया गया है। साथ ही बिरसा में एक होंडा मोटरसाइकिल का शोरूम भी है। इसके अलावा 6 लाख के घरेलू सामान मिले है। लोकायुक्त कार्यालय जबलपुर ने संतोष भगत के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है।

यह भी पढ़ें… वायरल : फिर गरमाया ताजमहल विवाद, एलन मस्क के ट्वीट पर भड़के लोग

जांच में सामने आई सम्पत्ति
लोकायुक्त जांच में संतोष भगत की जिला बालाघाट निवास ग्राम करौंदा बहेरा एवं बिरसा स्थित मकानों पर छापा करवाई में घर की इन्वेंटरी 6 लाख रुपए, बैंकों की एफडी 15 लाख रुपए, 3-एलआईसी पर खर्च 5,25,000/- रुपए, आवास मूल्यांकन 6 लाख रुपए, कृषि एवं अन्य भूमि से संबंधित दस्तावेज 28,77,899/- रुपए, बिरसा स्थित 2 भवन लागत 50 लाख रुपए,  बालाघाट स्थित भवन निर्माण लागत 30 लाख रूपए, एक करोड़ 41 लाख 7 हजार 899 रुपए की संपत्ति सामने आई है।