दामाद पर प्राणघातक हमला करने वाला ससुर गिरफ्तार

बालाघाट। वारासिवनी नगरीय क्षेत्र के वार्ड नंबर एक में बीते 10 मई को विवाद में दामाद पर प्राणघातक हमला कर फरार होने वाले ससुर कल्याण गौर को वारासिवनी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।गौरतलब हो कि वारासिवनी थाना क्षेत्र अंतर्गत वॉर्ड नंबर एक में 10 मई की दोपहर 28 वर्षीय दामाद भोजु पिता गोपीचंद नेवारे पर उसके ही ससुर कल्याण गौर ने प्राणघातक हमला कर दिया। जिसके बाद गंभीर रूप से घायल राज नेवारे को वारासिवनी अस्पताल से जिला चिकित्सालय लाकर भर्ती कराया गया था। जबकि घटना के बाद से आरोपी फरार था। जिसकी पुलिस तलाश कर रही थी। जिसे वारासिवनी पुलिस ने बीती रात गिरफ्तार कर लिया।

विवाद में ससुर ने किया था दामाद पर प्राणघातक हमला
विदित हो कि 35 वर्षीय भोजु पिता गोपीचंद नेवारे का विवाह वर्ष 2013 में वारासिवनी नगर के बीड़ी कॉलोनी वार्ड नंबर एक निवासी कल्याण गोरे की पुत्री गंगासागर के साथ हुआ था। कायदी गिट्टी खदान में मजदूरी करने के कारण विवाह के बाद राज उसी वार्ड में पत्नी के साथ किराये के मकान में निवास करने लगा था। अत्यधिक शराब का पीने का आदि राज, अक्सर शराब के नशे के बाद अक्सर पत्नी और ससुर से झगड़ते रहता था। पति की शराब की लत से परेशान पत्नी गंगासागर अपने मायके चली गई थी। जिसका पति राज जब 10 मई को पत्नी और बच्चों को अपने साथ लाने ससुराल पहंुचा था। पति की आदत से परेशान पत्नी, पति के साथ घर जाने तैयार नहीं थी, लेकिन पति राज द्वारा जबरदस्ती जब पत्नी को उसके मायके से ले जाने का प्रयास किया जाने लगा तो ससुर कल्याण गौर, दामाद राज को पत्नी को ले जाने से मना करने लगे। जिसको लेकर दोनो में हुए विवाद के दौरान ससुर कल्याण गोरे ने चाकु से दामाद राज के पेट पर कई वार करने के बाद फरार हो गया। एकाएक चाकु के हमले से घायल राज जमीन पर गिरकर तड़फड़ता रहा था। जिसकी सूचना मिलने पर पहुंची वारासिवनी पुलिस ने गंभीर रूप से घायल राज को उपचारार्थ सिविल अस्पताल भिजवाया। जहां से उसे बेहतर उपचार के लिए रिफर किये जाने पर जिला चिकित्सालय लाकर भर्ती कराया गया था। इस मामले में वारासिवनी पुलिस ने आरोपी बीड़ी कॉलोनी वार्ड नंबर एक निवासी 55 वर्षीय कल्याण पिता लक्ष्मण गौर के खिलाफ धारा 294,307 ताहि के तहत अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया था।

इनका कहना है
बीडी कॉलोनी वार्ड नंबर एक निवासी भोजु नेवारे पर प्राणघात हमला करने के बाद आरोपी कल्याण गौर फरार था। जिसे बीती रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले की विवेचना की जा रही है।
अनुराग प्रकाश, थाना प्रभारी, वारासिवनी